shri shiv stuti Header

Best Krishna Bhajan Lyrics Hindi | कृष्ण भजन लिरिक्स हिंदी (Top 100)

कृष्ण भगवान के ये अद्बुध भजन “कृष्ण भजन लिरिक्स हिंदी | Krishna Bhajan Lyrics Hindi” यहाँ आपको निचे दिए गए है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है। Krishna Bhajan Lyrics Hindi प्राप्त करे।

Krishna Bhajan Lyrics Hindi

स्पेशल आरतियाँ

चालीसा

भजन


Krishna Bhajan Lyrics Hindi


हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “कृष्ण भजन लिरिक्स हिंदी | Krishna Bhajan Lyrics Hindi” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Krishna Bhajan Lyrics Hindi” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।


Kismat Ka Mara Hu Saware krishna bhajan lyrics

किस्मत का मारा हूँ सांवरे,
प्यार की थोड़ी सी,
झलक दिखा मेरे श्याम,
सब झूठे रिश्तो को तोड़के,
तेरी भक्ति की,
अलख जगा मेरे श्याम,
झलक दिखा मेरे श्याम।।

मेरी ज़िंदगी में श्याम,
धोखे ही धोखे है,
बर्बादियों के पल,
आते ही रहते है,
अब हार के तेरी शरण मैं,
लेने आया हूँ,
आज मुझे भी तार,
किस्मत का मारा हूं सांवरे,
प्यार की थोड़ी सी,
झलक दिखा मेरे श्याम।।

सब जान कर भी तू,
चुप चाप बैठा है,
कह दे के तेरा ये,
इंसाफ कैसा है,
अब आज ना जाऊं डाल दे,
मेरी झोली में,
भीख दया की श्याम,
किस्मत का मारा हूं सांवरे,
प्यार की थोड़ी सी,
झलक दिखा मेरे श्याम।।

सुनता हूँ निर्धन के,
भंडार भरते हो,
भक्तो की नैया को,
भव पार करते हो,
एक बार मुझ पर भी कृपा,
बरसा दे रे मोहन,
बिगड़े बने मेरे काम,
किस्मत का मारा हूं सांवरे,
प्यार की थोड़ी सी,
झलक दिखा मेरे श्याम।।

अब तो सिवा तेरे,
कोई चाह नहीं मुझको,
दुनिया की अब कुछ भी,
परवाह नहीं मुझको,
अब चौखठ पे तेरी,
‘हर्ष’ की बीते रे कान्हा,
जीवन की ये शाम,
किस्मत का मारा हूं सांवरे,
प्यार की थोड़ी सी,
झलक दिखा मेरे श्याम।।

किस्मत का मारा हूँ सांवरे,
प्यार की थोड़ी सी,
झलक दिखा मेरे श्याम,
सब झूठे रिश्तो को तोड़के,
तेरी भक्ति की,
अलख जगा मेरे श्याम,
झलक दिखा मेरे श्याम।।


Are Re Meri Jaan Hai Radha krishna bhajan Lyrics

अरे रे मेरी जान है राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
अरे रे मेरी जान हैं राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं,

जब भी बने तू राधा, श्याम बनूँगा ,
जब भी बने तू सीता, राम बनूँगा,
तेरे बिना आधा, सुबह शाम कहूँगा,
आत्मा से राधा राधा नाम कहूँगा।।

अरे रे मेरी जान है राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं।।

सुन्दर नैन विशाल, मोहनी सूरत प्यारी हैं,
कितनी ग्वालन गोपियाँ, तू सबसे न्यारी है,
तुम बिन रास रचाऊ कैसे, जानत सारी है,
श्याम की दिल की रानी, तू बरसाने वाली है।।

अरे रे मेरी जान हैं राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं।।

तेरा ही तो नाम पुकारे, बंसी भोरी री,
गैया भी पहचाने राधा, महक टोरी री,
तूने किनी नैनन से, मेरे मन की चोरी री,
कैसी जोड़ी कृष्ण कारा,राधा गोरी री।।

अरे रे मेरी जान है राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं।।

हिचकी आये राधा तेरी, याद सताती है,
यमुना की लहरों में तेरी, झलक सी आती हैं,
सज धज के सखियों में तू, पनघट जाती हैं,
सूखी धरती में भी प्रीत के, कमल खिलाती हैं।।

अरे रे मेरी जान है राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं।।

अरे रे मेरी जान हैं राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं,

जब भी बने तू राधा, श्याम बनूँगा ,
जब भी बने तू सीता, राम बनूँगा,
तेरे बिना आधा, सुबह शाम कहूँगा,
आत्मा से राधा राधा नाम कहूँगा।

अरे रे मेरी जान है राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं।।


Shri Krishna Sankirtan Lyrics | krishna bhajan lyrics

Shri Krishna Govind Hare Murari,
Hey Nath Narayan Vasudeva (X8)

Ajutam Keshvam Ram Narayanam
Krishna Damodaram Vasudevam Hari (X4)

Shri Krishna Govind Hare Murari,
Hey Nath Narayan Vasudeva (X4)

Kukam Karoti Vachalam
Pangulan Ghathe Giram
Yat Kripa Hum Bande Pramanam.

Shri Krishna Govind Hare Murari,
Hey Nath Narayan Vasudeva (X8)

Ajutam Keshvam Ram Narayanam,
Krishna Damodaram Vasudevam Hari (X4)

Shri Krishna Govind Hare Murari,
Hey Nath Narayan Vasudeva (X4)

Krishnaya Vasudevay,
Harye Parmatmane Prant Kalesh
Nashay Govinday Namo Namah

Shri Krishna Govind Hare Murari,
Hey Nath Narayan Vasudeva (X8)

Ajutam Keshvam Ram Narayanam,
Krishna Damodaram Vasudevam Hari (X4)

Shri Krishna Govind Hare Murari,
Hey Nath Narayan Vasudeva (X8)

Ajutam Keshvam Ram Narayanam,
Krishna Damodaram Vasudevam Hari (X4)

Shri Krishna Govind Hare Murari,
Hey Nath Narayan Vasudeva (X8)

Ajutam Keshvam Ram Narayanam,
Krishna Damodaram Vasudevam Hari (X4)

Shri Krishna Govind Hare Murari,
Hey Nath Narayan Vasudeva (X8)

Ajutam Keshvam Ram Narayanam,
Krishna Damodaram Vasudevam Hari (X4)

Shri Krishna Govind Hare Murari,
Hey Nath Narayan Vasudeva (X8)

Ajutam Keshvam Ram Narayanam,
Krishna Damodaram Vasudevam Hari (X4)

Shri Krishna Govind Hare Murari,
Hey Nath Narayan Vasudeva (X4)


Shri Krishna Govind Hare Murari Lyrics
krishna bhajan lyrics

श्री कृष्ण गोविन्द हरे मुरारी,
हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥
हे नाथ नारायण…॥
पितु मात स्वामी, सखा हमारे,
हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥
हे नाथ नारायण…॥
॥ श्री कृष्ण गोविन्द हरे मुरारी…॥

बंदी गृह के, तुम अवतारी
कही जन्मे, कही पले मुरारी
किसी के जाये, किसी के कहाये
है अद्भुद, हर बात तिहारी ॥
है अद्भुद, हर बात तिहारी ॥
गोकुल में चमके, मथुरा के तारे
हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥

श्री कृष्ण गोविन्द हरे मुरारी,
हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥
पितु मात स्वामी, सखा हमारे,
हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥

अधर पे बंशी, ह्रदय में राधे
बट गए दोनों में, आधे आधे
हे राधा नागर, हे भक्त वत्सल
सदैव भक्तों के, काम साधे ॥
सदैव भक्तों के, काम साधे ॥
वही गए वही, गए वही गए
जहाँ गए पुकारे
हे नाथ नारायण वासुदेवा॥

श्री कृष्ण गोविन्द हरे मुरारी,
हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥
पितु मात स्वामी सखा हमारे,
हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥

गीता में उपदेश सुनाया
धर्म युद्ध को धर्म बताया
कर्म तू कर मत रख फल की इच्छा
यह सन्देश तुम्ही से पाया
अमर है गीता के बोल सारे
हे नाथ नारायण वासुदेवा॥

श्री कृष्णा गोविन्द हरे मुरारी,
हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥
पितु मात स्वामी सखा हमारे,
हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥

त्वमेव माता च पिता त्वमेव
त्वमेव बंधू सखा त्वमेव
त्वमेव विद्या द्रविणं त्वमेव
त्वमेव सर्वं मम देव देवा
॥ श्री कृष्णा गोविन्द हरे मुरारी…॥

राधे कृष्णा राधे कृष्णा
राधे राधे कृष्णा कृष्णा॥
राधे कृष्णा राधे कृष्णा
राधे राधे कृष्णा कृष्णा॥

हरी बोल, हरी बोल,
हरी बोल, हरी बोल॥

राधे कृष्णा राधे कृष्णा
राधे राधे कृष्णा कृष्णा
राधे कृष्णा राधे कृष्णा
राधे राधे कृष्णा कृष्णा॥


Gopi Geet Lyrics | krishna bhajan lyrics

॥ गोपीगीतम् ॥

गोप्य ऊचुः ।
जयति तेऽधिकं जन्मना व्रजः
श्रयत इन्दिरा शश्वदत्र हि ।
दयित दृश्यतां दिक्षु तावका-
    स्त्वयि धृतासवस्त्वां विचिन्वते ॥ १॥

शरदुदाशये साधुजातस-
 त्सरसिजोदरश्रीमुषा दृशा ।
सुरतनाथ तेऽशुल्कदासिका
    वरद निघ्नतो नेह किं वधः ॥ २॥

विषजलाप्ययाद्व्यालराक्षसा-
    द्वर्षमारुताद्वैद्युतानलात् ।
वृषमयात्मजाद्विश्वतोभया-
    दृषभ ते वयं रक्षिता मुहुः ॥ ३॥

न खलु गोपिकानन्दनो भवा-
    नखिलदेहिनामन्तरात्मदृक् ।
विखनसार्थितो विश्वगुप्तये
    सख उदेयिवान्सात्वतां कुले ॥ ४॥

विरचिताभयं वृष्णिधुर्य ते
    चरणमीयुषां संसृतेर्भयात् ।
करसरोरुहं कान्त कामदं
    शिरसि धेहि नः श्रीकरग्रहम् ॥ ५॥

व्रजजनार्तिहन्वीर योषितां
    निजजनस्मयध्वंसनस्मित ।
भज सखे भवत्किंकरीः स्म नो
    जलरुहाननं चारु दर्शय ॥ ६॥

प्रणतदेहिनां पापकर्शनं
    तृणचरानुगं श्रीनिकेतनम् ।
फणिफणार्पितं ते पदांबुजं
    कृणु कुचेषु नः कृन्धि हृच्छयम् ॥ ७॥

मधुरया गिरा वल्गुवाक्यया
    बुधमनोज्ञया पुष्करेक्षण ।
विधिकरीरिमा वीर मुह्यती-
    रधरसीधुनाऽऽप्याययस्व नः ॥ ८॥

तव कथामृतं तप्तजीवनं
    कविभिरीडितं कल्मषापहम् ।
श्रवणमङ्गलं श्रीमदाततं
    भुवि गृणन्ति ते भूरिदा जनाः ॥ ९॥

प्रहसितं प्रिय प्रेमवीक्षणं
    विहरणं च ते ध्यानमङ्गलम् ।
रहसि संविदो या हृदिस्पृशः
    कुहक नो मनः क्षोभयन्ति हि ॥ १०॥

चलसि यद्व्रजाच्चारयन्पशून्
    नलिनसुन्दरं नाथ ते पदम् ।
शिलतृणाङ्कुरैः सीदतीति नः
    कलिलतां मनः कान्त गच्छति ॥ ११॥

दिनपरिक्षये नीलकुन्तलै-
    र्वनरुहाननं बिभ्रदावृतम् ।
घनरजस्वलं दर्शयन्मुहु-
    र्मनसि नः स्मरं वीर यच्छसि ॥ १२॥

प्रणतकामदं पद्मजार्चितं
    धरणिमण्डनं ध्येयमापदि ।
चरणपङ्कजं शंतमं च ते
    रमण नः स्तनेष्वर्पयाधिहन् ॥ १३॥

सुरतवर्धनं शोकनाशनं
    स्वरितवेणुना सुष्ठु चुम्बितम् ।
इतररागविस्मारणं नृणां
    वितर वीर नस्तेऽधरामृतम् ॥ १४॥

अटति यद्भवानह्नि काननं
    त्रुटिर्युगायते त्वामपश्यताम् ।
कुटिलकुन्तलं श्रीमुखं च ते
    जड उदीक्षतां पक्ष्मकृद्दृशाम् ॥ १५॥

पतिसुतान्वयभ्रातृबान्धवा-
    नतिविलङ्घ्य तेऽन्त्यच्युतागताः ।
गतिविदस्तवोद्गीतमोहिताः
    कितव योषितः कस्त्यजेन्निशि ॥ १६॥

रहसि संविदं हृच्छयोदयं
    प्रहसिताननं प्रेमवीक्षणम् ।
बृहदुरः श्रियो वीक्ष्य धाम ते
    मुहुरतिस्पृहा मुह्यते मनः ॥ १७॥

व्रजवनौकसां व्यक्तिरङ्ग ते
    वृजिनहन्त्र्यलं विश्वमङ्गलम् ।
त्यज मनाक् च नस्त्वत्स्पृहात्मनां
    स्वजनहृद्रुजां यन्निषूदनम् ॥ १८॥

यत्ते सुजातचरणाम्बुरुहं स्तनेष
    भीताः शनैः प्रिय दधीमहि कर्कशेषु ।
तेनाटवीमटसि तद्व्यथते न किंस्वित्
    कूर्पादिभिर्भ्रमति धीर्भवदायुषां नः ॥ १९॥

इति श्रीमद्भागवत महापुराणे पारमहंस्यां संहितायां
दशमस्कन्धे पूर्वार्धे रासक्रीडायां गोपीगीतं नामैकत्रिंशोऽध्यायः ॥
krishna bhajan lyrics


Jab Bhi Nian Mundo Lyrics | krishna bhajan lyrics

जब भी नैन मूंदो,
जब भी नैन खोलो,
राधे कृष्णा बोलो,
राधे कृष्णा बोलो,
जय राधे कृष्णा,
जय राधे कृष्णा,
जय राधे कृष्णा हरे हरे।।

वृंदावन ब्रज की राजधानी,
यहाँ बसे ठाकुर ठकुरानी,
मधुर मिलन की साक्षी देते, 
सेवा कुञ्ज और यमुना का पानी,
सेवा कुञ्ज और यमुना का पानी,
पूण्य प्रेम रस में आत्मा भिगोलो,
जब भी नैन मुंदो जब भी नैन खोलो,
राधे कृष्णा बोलो राधे कृष्णा बोलो ।।

कृष्ण राधिका एक है,
इनमे अंतर नाही,
राधे को आराध लो,
कृष्णा तभी मिल जाए,
प्रथक प्रथक कभी इनको ना तोलो,
जब भी नैन मुंदो जब भी नैन खोलो,
राधे कृष्णा बोलो राधे कृष्णा बोलो ।।

जब भी नैन मूंदो,
जब भी नैन खोलो,
राधे कृष्णा बोलो,
राधे कृष्णा बोलो
जय राधे कृष्णा,
जय राधे कृष्णा,
जय राधे कृष्णा हरे हरे।।

krishna bhajan lyrics


Shri Krishna Chalisa Lyrics
shri krishna bhajan lyrics

॥दोहा॥
बंशी शोभित कर मधुर, नील जलद तन श्याम।
अरुण अधर जनु बिम्बफल, नयन कमल अभिराम॥
पूर्ण इन्द्र, अरविन्द मुख, पीताम्बर शुभ साज।
जय मनमोहन मदन छवि, कृष्णचन्द्र महाराज॥

॥चौपाई॥
जय यदुनंदन जय जगवंदन।जय वसुदेव देवकी नन्दन॥
जय यशुदा सुत नन्द दुलारे। जय प्रभु भक्तन के दृग तारे॥
जय नटनागर, नाग नथइया॥ कृष्ण कन्हइया धेनु चरइया॥
पुनि नख पर प्रभु गिरिवर धारो। आओ दीनन कष्ट निवारो॥

वंशी मधुर अधर धरि टेरौ। होवे पूर्ण विनय यह मेरौ॥
आओ हरि पुनि माखन चाखो। आज लाज भारत की राखो॥
गोल कपोल, चिबुक अरुणारे। मृदु मुस्कान मोहिनी डारे॥
राजित राजिव नयन विशाला। मोर मुकुट वैजन्तीमाला॥

कुंडल श्रवण, पीत पट आछे। कटि किंकिणी काछनी काछे॥
नील जलज सुन्दर तनु सोहे। छबि लखि, सुर नर मुनिमन मोहे॥
मस्तक तिलक, अलक घुँघराले। आओ कृष्ण बांसुरी वाले॥
करि पय पान, पूतनहि तार्यो। अका बका कागासुर मार्यो॥

मधुवन जलत अगिन जब ज्वाला। भै शीतल लखतहिं नंदलाला॥
सुरपति जब ब्रज चढ़्यो रिसाई। मूसर धार वारि वर्षाई॥
लगत लगत व्रज चहन बहायो। गोवर्धन नख धारि बचायो॥
लखि यसुदा मन भ्रम अधिकाई। मुख मंह चौदह भुवन दिखाई॥

दुष्ट कंस अति उधम मचायो॥ कोटि कमल जब फूल मंगायो॥
नाथि कालियहिं तब तुम लीन्हें। चरण चिह्न दै निर्भय कीन्हें॥
करि गोपिन संग रास विलासा। सबकी पूरण करी अभिलाषा॥
केतिक महा असुर संहार्यो। कंसहि केस पकड़ि दै मार्यो॥

मातपिता की बन्दि छुड़ाई ।उग्रसेन कहँ राज दिलाई॥
महि से मृतक छहों सुत लायो। मातु देवकी शोक मिटायो॥
भौमासुर मुर दैत्य संहारी। लाये षट दश सहसकुमारी॥
दै भीमहिं तृण चीर सहारा। जरासिंधु राक्षस कहँ मारा॥
shri krishna bhajan lyrics

असुर बकासुर आदिक मार्यो। भक्तन के तब कष्ट निवार्यो॥
दीन सुदामा के दुःख टार्यो। तंदुल तीन मूंठ मुख डार्यो॥
प्रेम के साग विदुर घर माँगे।दर्योधन के मेवा त्यागे॥
लखी प्रेम की महिमा भारी।ऐसे श्याम दीन हितकारी॥

भारत के पारथ रथ हाँके।लिये चक्र कर नहिं बल थाके॥
निज गीता के ज्ञान सुनाए।भक्तन हृदय सुधा वर्षाए॥
मीरा थी ऐसी मतवाली।विष पी गई बजाकर ताली॥
राना भेजा साँप पिटारी।शालीग्राम बने बनवारी॥

निज माया तुम विधिहिं दिखायो।उर ते संशय सकल मिटायो॥
तब शत निन्दा करि तत्काला।जीवन मुक्त भयो शिशुपाला॥
जबहिं द्रौपदी टेर लगाई।दीनानाथ लाज अब जाई॥
तुरतहि वसन बने नंदलाला।बढ़े चीर भै अरि मुँह काला॥

अस अनाथ के नाथ कन्हइया। डूबत भंवर बचावइ नइया॥
सुन्दरदास आ उर धारी।दया दृष्टि कीजै बनवारी॥
नाथ सकल मम कुमति निवारो।क्षमहु बेगि अपराध हमारो॥
खोलो पट अब दर्शन दीजै।बोलो कृष्ण कन्हइया की जै॥

॥दोहा॥
यह चालीसा कृष्ण का, पाठ करै उर धारि।
अष्ट सिद्धि नवनिधि फल, लहै पदारथ चारि॥
shri krishna bhajan lyrics


Daya Kya Kam Hai Ghanshyam Pyare Lyrics
krishna bhajan lyrics in english

दया क्या यह कम है ओ धनश्याम प्यारे
जो चरणो में तेरे ठिकाना मिला है
दया क्या यह कम है…

बड़े भाग्यशाली वो हैं तेरे बन्दे
जो चरणो में यह सर झुकना मिला है
दया क्या यह कम है…

मुरारी मैं सदके रेहमत पे तेरे
जो चरणो में यह दिल लगाना मिला है
दया क्या यह कम है…

वो क्या बागे-जन्नत की परवाह करेंगे
जिन्हे आपका आशिआना मिला है
krishna bhajan lyrics in english


Jai Govinda Gopala Lyrics
krishna bhajan lyrics in hindi

Jai Govinda Gopala
Murali Manohar Nandlala

Jai Murali Manohar Nandlala
Murali Manohar Nandlala

Jai Govinda Gopala
Murali Manohar Nandlala

Deen Dayal Sune Jab Se
Tab Se Mann Mein Kachhu Aisi Basi Hai
Tero Kahan Ab Jaaoon Kahan
Ab Tere Hi Naam Ki Phant Kasi Hai

Tero Hi Aasaro Ek Malok
Nahin Koi Ab Doojo Jashi Hai
Eho Murari Pukar Kahoon
Ya Meri Haseen Naa Hi Teri Haseen Hai
krishna bhajan lyrics in hindi

Jai Govinda Gopala
Murali Manohar Nandlala

Murali Dhwani Mein Kuchh Gaata Hua
Mam Sanamukh Hi Itaraata Hai Kyon
Hum Jaanate Hain Chaturaai Teri
Has Ke Har Baar Hasaata Hai Kyon

Phir Nain Kataaksh Chala Karke
Bhujti Hui Agani Jalaata Hai Kyon
Arre Nishto Ro Vyarth Na Chhed Humein
Sulajhe Mann Ko Ulajhaata Hai Kyon

Jai Govinda Gopala
Murali Manohar Nandlala

Jai Murali Manohar Nandlala
Murali Manohar Nandlala

Jai Govinda Gopala
Murali Manohar Nandlala


Adharam Madhuram Lyrics
hindi krishna bhajan lyrics

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं .
हृदयं मधुरं गमनं मधुरं मधुराधिपतेरखिलं मधुरं ..

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं .

वचनं मधुरं चरितं मधुरं वसनं मधुरं वलितं मधुरं .
चलितं मधुरं भ्रमितं मधुरं मधुराधिपतेरखिलं मधुरं ..

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं .

वेणुर्मधुरो रेणुर्मधुरः पाणिर्मधुरः पादौ मधुरौ .
नृत्यं मधुरं सख्यं मधुरं मधुराधिपतेरखिलं मधुरं ..

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं .

गीतं मधुरं पीतं मधुरं भुक्तं मधुरं सुप्तं मधुरं .
रूपं मधुरं तिलकं मधुरं मधुराधिपतेरखिलं मधुरं ..

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं .

करणं मधुरं तरणं मधुरं हरणं मधुरं स्मरणं मधुरं .
वमितं मधुरं शमितं मधुरं मधुराधिपतेरखिलं मधुरं ..

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं .

गुंजा मधुरा माला मधुरा यमुना मधुरा वीची मधुरा .
सलिलं मधुरं कमलं मधुरं मधुराधिपतेरखिलं मधुरं ..

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं .
hindi krishna bhajan lyrics

गोपी मधुरा लीला मधुरा युक्तं मधुरं मुक्तं मधुरं .
दृष्टं मधुरं शिष्टं मधुरं मधुराधिपतेरखिलं मधुरं ..

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं .

गोपा मधुरा गावो मधुरा यष्टिर्मधुरा सृष्टिर्मधुरा .
दलितं मधुरं फलितं मधुरं मधुराधिपतेरखिलं मधुरं ..

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं .
हृदयं मधुरं गमनं मधुरं मधुराधिपतेरखिलं मधुरं ..


Shyam Rang Me Rang Gayi Radha Lyrics
shree krishna bhajan lyrics

श्याम रंग में रंग गई राधा,
भूली सुध-बुध सारी रे,
राधा के मन में,
बस गए श्याम बिहारी।।

श्याम नाम की चुनर ओढ़ी,
श्याम नाम की चुडीयाँ,
अंग अंग में श्याम समाए,
मिट गयी सारी दूरिया,
कानो में कुण्डल गल वैजंती,
माला लागे प्यारी रे,
राधा के मन में,
बस गए श्याम बिहारी।।

बैठ कदम की डाल कन्हैया,
मुरली मधुर बजाए,
साँझ सकारे मुरली के स्वर,
राधा राधा गाए,
इस मुरली की तान पे जाए,
ये दुनिया बलिहारी,
राधा के मन में,
बस गए श्याम बिहारी।।
shree krishna bhajan lyrics

अधर सुधा रस मुरली राजे,
कान्हा रास रचाए
कृष्ण रचैया राधा रचना,
प्रेम सुधा बरसाए,
प्रेम मगन हो सब ही बोलो,
जय हो बांके बिहारी
राधा के मन में,
बस गए श्याम बिहारी।।

श्याम रंग में रंग गई राधा,
भूली सुध-बुध सारी रे,
राधा के मन में,
बस गए श्याम बिहारी।।


Parde Mein Baithe Baithe Bhajan Lyrics
krishna bhajan lyrics in english

परदे में बैठे बैठे,
यूँ ना मुस्कुराइये,
आ गए तेरे दीवाने,
जरा परदा हटाइए।।

परदा तेरा हमे नही,
मंजूर सांवरे,
बैठा है छुप के दीवानो से,
क्यों दूर सांवरे,
मैं भी तो आया दो कदम,
ज़रा तुम भी बढ़ाइए,
आ गए तेरे दीवाने,
जरा परदा हटाइए।।

हम चाहने वाले हैं तेरे,
हमे है तुमसे मोहब्बत,
कर दो करम ज़रा दिखा दो,
अब सांवरी सूरत,
प्यासी निगाहे दीद की,
जरा नजरे मिलाइए,
आ गए तेरे दीवाने,
जरा परदा हटाइए।।

तेरी इक झलक को प्यारे,
मेरा अब दिल बेकरार है,
दीदार की तमन्ना मुझे अब,
तेरा इंतजार है,
रह रह के हमे इस तरह,
यूँ न सताइए,
आ गए तेरे दीवाने,
जरा परदा हटाइए।।
krishna bhajan lyrics in english

तू ही जिंदगी है बंदगी,
तू ही आरजू हमारी,
अरमान मेरे दिल का करो,
पूरा बांके बिहारी 
‘चित्र विचत्र’ को अपने प्रेम का,
पागल बनाइये ,
आ गए तेरे दीवाने,
जरा परदा हटाइए।।

परदे में बैठे बैठे,
यूँ ना मुस्कुराइये,
आ गए तेरे दीवाने,
जरा परदा हटाइए।।

krishna bhajan lyrics in english

Jari Ki Pagdi Bandhe Sundar Aankho Wala
shri krishna bhajan lyrics

ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे प्यारा ।
ज़री की पगड़ी बाँधे…

कानों में कुण्डल साजे, सिर मोर मुकुट विराजे,
सखियाँ पगली होती, जब – जब होठों पे बंशी बाजे ।
हैं चंदा यह सांवरा, तारे हैं ग्वाल बाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे प्यारा ॥

लट घुँघरे बाल, तेरे कारे कारे बाल,
सुन्दर श्याम सलोना तेरी टेडी मेडी चाल ।
हवा में सर – सर करता तेरा पीताम्बर मतवाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे प्यारा ॥
shri krishna bhajan lyrics

मुख पे माखन मलता, तू बल घुटने के चलता,
देख यशोदा भाग्य को देवों का मन जलता ।
माथे पे तिलक सोहे आँखों में काज़ल डारा,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे प्यारा ॥

तू जब बंशी बजाए तब मोर भी नाच दिखाए,
यमुना में लहरें उठती और कोयल भी कू – कू गाए ।
हाथ में कँगन पहने और गल वैजयंती माला


बांके बिहारी की देख छटा radha krishna bhajan lyrics

टेडो ही मुकुट,
बात टेडी कुछ कह ग्यो
टेडे घुँगराले बाल,
टेडी गल फूल माल
और टेडे ही हुलाक मेरे चित में बसे गयो
टेडे पग उपर नुपूर झंकार करे
टेडी बाँसुरी बजाए चित चुराए गयो
एसा टेडे टेडीन को ध्यान धरे माया राम
लटपटी पाग सो लपेट मन ले गयो

बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।

radha krishna bhajan lyrics

कब से खोजूं बनवारी को,
बनवारी को, गिरिधारी को।
कोई बता दे उसका पता,
मेरो मन है गयो लटा पटा॥

बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा….


मोर मुकुट श्यामल तन धारी,
कर मुरली अधरन सजी प्यारी।
कमर में बांदे पीला पटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा॥

बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा….


पनिया भरन यमुना तट आई,
बीच में मिल गए कृष्ण कन्हाई।
फोर दियो पानी को घटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा॥

बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा….


टेडी नज़रें लट घुंघराली,
मार रही मेरे दिल पे कटारी।
और श्याम वरन जैसे कारी घटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा॥

बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा….


मिलते हैं उसे बांके बिहारी,
बांके बिहारी, सनेह बिहारी।
राधे राधे जिस ने रटा,

बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा….

radha krishna bhajan lyrics

Jinko Seth Banaya Wo Kya Rishtedaar Hai

जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या रिश्तेदार हैं,
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।

वो भी बाबा कहते हैं हम भी बाबा कहते हैं,
वो भी सेवा करते हैं हम भी सेवा करते हैं ।
हम तो छोटे मोटे भिखारी वो क्या जागीरदार हैं,
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ॥

वो भी परिवार तेरा ये भी है परिवार तेरा,
उनको भी आधार तेरा हमको भी आधार तेरा ।
हम तो तुम्हारे दर के नौकर वो क्या हिस्सेदार हैं,
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ॥

वो भी दर पर जाते हैं हम भी दर पर जाते हैं,
वो भी मांग लाते हैं हम भी मांग के लाते हैं ।
देख देख कर झोली भरता तुं कैसा दातार है,
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ॥

उनको भर भंडार दिया उनको छप्पर फाड़ दिया,
जब आई मेरी बारी अपना पल्ला झाड़ लिया ।
उनको भक्तों का तेरा साथ में चलता क्या व्यापार है,
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ॥

वो भी लाल तुम्हारे हैं हम भी लाल तुम्हारे हैं,
तेरे पास क्या श्याम धनी दिल भी न्यारे न्यारे हैं ।
वही अकेले वारिसहम क्या झूठे दावेदार हैं,
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ॥

किस्मत फर्क समझती है तुं भी फरक समझता क्या,
किस्मत से गर मिलता है फिर तुं झोली भरता क्या ।
श्याम धनी तक़दीर बदलता ये कहना बेकार है,
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ॥

मर्ज़ी है मेरे श्याम की होना है सो होना है,
भेद तुम्हारे दिल में है इसी बात का रोना है ।
अलग अलग नज़रों से देखे तुं कैसी सरकार है,
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ॥

जिनको सेठ बनाया है हल्ला यहीं मचाते हैं,
खाटू जाकर लाये हैं नीचा हमें दिखाते हैं ।
बनवारी बस इतना बता दे खाटू क्या दो चार हैं
krishna bhajan lyrics in hindi


Mujhe Hai Talash Teri krishna bhajan lyrics in hindi

Mujhe Hai Talash Teri Mujhe Teri Justju Hai
Mujko Teri Tamanna Mujhe Teri Aarzoo Hai

Kis Kaam Ka Ye Jeevan Tera Pyar Agar Naa Paya
Tujhse Naa Dil Lagaya Tujhko Naa Agar Rijhaya
krishna bhajan lyrics in hindi

Tum Bin Andheri Duniya Sunsaan Charesu Hai

Mujko Teri Tamanna Mujhe Teri Aarzoo Hai
Mujhe Hai Talash Teri Mujhe Teri Justju Hai

Aankho Mein Ho Tasavur Dil Mein Ho Yaad Teri
Teri Yaad Ki Mahak Se Mahak Jaye Duniya Meri

Daulat Bhi Meri Tu Hai Meri Zindagi Bhi Tu Hai
bhajan lyrics of krishna

Mujko Teri Tamanna Mujhe Teri Aarzoo Hai
Mujhe Hai Talash Teri Mujhe Teri Justju Hai

Vo Dil Nahi Ho Paida Jisme Lagan Tumhari
Barbad Zindagi Hai Bechain Rooh Bechari

Uss Dil Ka Kya Hai Kahana Jis Dil Mein Tu Hi Tu Hai

Mujko Teri Tamanna Mujhe Teri Aarzoo Hai
Mujhe Hai Talash Teri Mujhe Teri Justju Hai

Hu Khush Naseeb Mujhper Nazare Karam Hai Tera
Ho Kyo Naa Naaj Mujhko Saval Main Das Tera

Mere Dil Mein Tu Hi Tu Hai Mera Ek Tu Hi Tu Hai
Mere Dil Mein Ek Tu Hai Mera Ek Tu Hi Tu Hai

Mujko Teri Tamanna Mujhe Teri Aarzoo Hai
Mujhe Hai Talaash Teri Mujhe Teri Justju Hai
bhajan lyrics of krishna


Mukunda Mukunda Lyrics

मुकुंदा मुकुंदा कृष्णा, मुकुंदा मुकुंदा,
मुझे दान में दे वृंदा विरिन्दा विरिन्दा।

मटकी से माखन फिर से चुरा,
गोपियों का विरह तू आके मिटा॥
bhajan lyrics of krishna

जय जय राम, जय जय राम,
जय जय राम, जय जय राम।
सीता राम, जय जय राम,
जय जय राम, जय जय राम॥

हे नंदलाला हे कृष्णा स्वामी,
तुम तो हो ज्ञानी ध्यानी अंतर्यामी।
महिमा तुम्हारी जो भी समझ ना पाए,
ख़ाक में मिल जाए वो खल्कामी।
ऐसा विज्ञान जो भी तुझ को ना माने,
तेरी श्रद्धालुओं की शक्ति ना जाने।

जो पाठ पढाया था तुमने गीता का अर्जुन को,
वो आज भी सच्ची राह दिखाए मेरे जीवन को।
मेरी आत्मा को अब ना सता,
जल्दी से आके मोहे दरस दिखा॥

krishna bhajan with lyrics

नैया मजधार में भी तुने बचाया,
गीता का ज्ञान दे के जग को जगाया।
छू लिया ज़मीन से ही, आसमान का तारा,
नरसिंघा का रूप धर के हिरन्य को मारा।
रावण के सर को काटा राम रूप ले के,
राधे का मन चुराया प्रेम रंग दे के।

मेरे नयनों में फूल खिले सब तेरी खुशबू के,
मैं जीवन साथी चुन लूं तेरे पैरों को छू के।
किसके माथे सजाऊं मोर पंख तेरा,
कई सदियों जन्मों से तू है मेरा॥

मोरा गोविंदा लाला मोरा तन का सांवर जी का गोरा।
उसकी कही ना कोई खबर आता कहीं ना वो तो नज़र।
आजा आजा झलक दिखाजा देर ना कर आ आजा।
गोविंदा गोपाला।

krishna bhajan with lyrics


Aa Gaya Main O Sanware Lyrics

आ गया मैं आ गया मैं ओ संवारे तेरे द्वार पे,
ओ हारे के सहारे श्याम हमारे,
मेरी भी बिगड़ी को तू ही सवारे
आ गया मैं …

krishna bhajan with lyrics

देखे है मैंने तेरे पर्चे बाबा हर घर में बस तेरे चर्चे बाबा,
दूर था तुमसे ये मेरी नादानी है जान गया मैं तू ही सचा दानी है
ओ हारे के सहारे श्याम हमारे मेरी भी बिगड़ी को तू ही सवारे
आ गया मैं …

अपनों ने ही मुझको बाबा लुटा है
प्रेम भरोसे का धागा अब टुटा है,
फिर से कृष्ण का बन के बाबा आओ गे
आज सुदामा का क्या साथ निभाओ गे
ओ हारे के सहारे श्याम हमारे मेरी भी बिगड़ी को तू ही सवारे
आ गया मैं आ …

Hare Krishna Bhajan Lyrics

मोर छड़ी तेरी जब जब लहराती है
पतझड़ में सावन का महीना लाती है
आज भी अपनी मोर छड़ी लेहराओ न
आकश पे बाबा अपना प्यार लुटाओ न
ओ हारे के सहारे श्याम हमारे मेरी भी बिगड़ी को तू ही सवारे
आ गया मैं …


Nek Mehndi Lagaaye De Sanwariya Lyrics

श्याम से राधा कह रही,
नेक मेहंदी लगाए दे साँवरिया,

मेहंदी की तू रंग चढ़ाये दे रे,
मेरे मन की चाह मिटाये दे,
नखरारी होरी आयी गयी रे,
नेक मेहंदी लगाए दे साँवरिया,

मेहंदी के रंग में रंग जाओ,
बीच हथेली श्याम लिखाऊ,
मन में ऐसी है रही,
नेक मेहंदी लगाए दे साँवरिया,

श्याम से राधा कह रही,
नेक मेहंदी लगाए दे साँवरिया,

होरी को दिन आये गया है,
मन मेरो ललचाये रहयो है,
लाल गुलाबी है रही मैं,
नेक मेहंदी चढ़ाई दे साँवरिया।

Krishna Bhajan Lyrics Gujarati


Shyam Teri Mala Japu Din Raat

खाटू जाकर देख ले झुकती दर पे दुनिया सारी,
बिगड़ी हुई वाहा बनती मिट ती है हर लाचारी,

अपने भगत की तू ही सुने फरयाद ,
ऐ श्याम तेरी माला जपु दिन रात,

दुनिया ने लीले वाले कितने ही गम दिए
दुनिया की ठोकरों में अब तलक था पड़ा
कोई नही था जिसको दुखड़े सुना सकू
निष्ठुर बना था कान्हा बिलकुल ही ये जहां
तुम ने एह खाटू वाले दुःख मेरे हर लिए,
मेरी कलाई थामी बिगड़ी बनाई बात
ऐ श्याम तेरी माला जपु दिन रात,

Radha Krishna Bhajan Lyrics

मिलता रहे सदा ही श्याम तेरा प्रेम यु
बेटे पे रखना दाता हर घडी तू दाता
किरपा का हाथ मेरे सिर पर सदा रहे
अब तक निभाया तूने आगे भी तू निभा
जालिम है दुनिया वाले रो रो कहे ये दिल
किस्मत सवर जाये जो मिल जाए तेरा साथ,
ऐ श्याम तेरी माला जपु दिन रात,

चरणों की धुल देदे चाकर बना मुझे
जीवन बिताऊ अपना चोकठ पे मैं तेरी
अपनी शरण में लेले आ मुझको संवारे
यु ही मैं है पल गाऊ महिमा सदा तेरी
जैसी सजा हो कान्हा चाहे तू दे मुझे
प् हर्ष तू दया का मेरे सिर पे रखना हाथ
ऐ श्याम तेरी माला जपु दिन रात।

Krishna Bhajan Lyrics Pdf

Krishna Bhajan Lyrics Hindi


krishna bhajan lyrics telugu,
krishna bhajans in english,
krishna bhajan lyrics in english pdf,
लरकस top krishna bhajan lyrics,
art of living,
lyrics krishna bhajan,
bhajan lyrics कषण भजन लरकस,
लरकस krishna bhajan lyrics,