युगल किशोर जी की आरती लिरिक्स | Yugal Kishore Ji Ki Aarti Lyrics

युगल किशोर जी की आरतीश्री गौमाता जी की आरती लिरिक्स | Shri Gaumata Ji Ki Aarti Lyrics” सुनने मात्र से होगी सभी इच्छाओ की पूर्ति करने वाली है। Shri Gaumata Ji Ki Aarti करने से उनका आशीर्वाद सदा बना रहता है।


युगल किशोर जी की आरती लिरिक्स

आरती युगलकिशोर की कीजै।
तन मन धन न्योछावर कीजै॥

गौरश्याम मुख निरखन लीजै।
हरि का रूप नयन भरि पीजै॥

रवि शशि कोटि बदन की शोभा।
ताहि निरखि मेरो मन लोभा॥

ओढ़े नील पीत पट सारी।
कुंजबिहारी गिरिवरधारी॥

फूलन सेज फूल की माला।
रत्न सिंहासन बैठे नंदलाला॥

कंचन थार कपूर की बाती।
हरि आए निर्मल भई छाती॥

श्री पुरुषोत्तम गिरिवरधारी।
आरती करें सकल नर नारी॥

नंदनंदन बृजभान किशोरी।
परमानंद स्वामी अविचल जोरी॥


Yugal Kishore Ji Ki Aarti Lyrics

Aarti Yugalkishor Ki Kijiye,
Tan Man Dhan Nayochawar Kijiye.

Gorshyam Mukh Nirkhan Lijiye,
Hari Ka Rup Nayan Bhari Pijiye.

Ravi Shashi Koti Badan Ki Shobha,
Tahi Nirkhi Mero Mann Lobha.

Odhe Neel Peet Pat Sari,
Kunjbihari Girivardhari.

Fulan Sej Phul Ki Mala,
Ratan Singhasan Baatai Nandlal.

Kanchan Thar Kapoor Ki Baati,
Hari Aae Nirmal Bhai Chati.

Sri Purushotam Girivardhari,
Aarti Kare Sakal Nar Nari.

Nandnandan Brijbhan Kishori,
Parmanand Sawami Avichal Jori.

Yugal Kishore Ji Ki Aarti Lyrics

हमें उम्मीद है की श्री युगल किशोर Ji के भक्तो को यह आर्टिकल “युगल किशोर जी की आरती लिरिक्स | Yugal Kishore Ji Ki Aarti Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा।  Yugal Kishore Ji Ki Aarti Lyrics ” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here