Popular Desh Bhakti Song Lyrics

73वें गणतंत्र दिवस पर हम आपके लिए लेकर आये है कुछ “पॉपुलर देशभक्ति गीत हिंदी में | Popular Desh Bhakti Song Lyrics” ।
Popular Desh Bhakti Song Lyrics के साथ साथ सांग के वीडियो और PDF file भी दी गयी है।

पॉपुलर देशभक्ति गीत हिंदी में | Popular Desh Bhakti Song Lyrics
Desh Bhakti Song Lyrics

Popular Desh Bhakti Song Lyrics

Us Desh Ko Duniya Me Hindustan Kehte Hai

उस देश को दुनिया में हिन्दुस्तान कहते है लिरिक्स | Us Desh Ko Duniya Me Hindustan Kehte Hai Lyrics

Suno Gaur Se Duniya Walo Deshbhakti Geet

सुनो गौर से दुनिया वालों देशभक्ति गीत लिरिक्स | Suno Gaur Se Duniya Walo Deshbhakti Geet Lyrics

Javinda Hindustaan Hindustaan Hum Kurbaan

जाविदां हिन्दुस्तान हिन्दुस्तान हम कुर्बान लिरिक्स | Javinda Hindustaan Hindustaan Hum Kurbaan Lyrics

Hum Logo Ko Samjh Sako To Deshbhakti Geet

हम लोगों को समझ सको तो देशभक्ति गीत लिरिक्स | Hum Logo Ko Samjh Sako To Deshbhakti Geet Lyrics

Bharat Hamko Jaan Se Pyara Hai Deshbhakti Geet

भारत हमको जान से प्यारा है देशभक्ति गीत लिरिक्स | Bharat Hamko Jaan Se Pyara Hai Deshbhakti Geet Lyrics

Hindustaan Ki Kasam Hindustaan Ki Kasam

हिंदुस्तान की कसम हिंदुस्तान की कसम लिरिक्स | Hindustaan Ki Kasam Hindustaan Ki Kasam Lyrics

Teri Mitti Mai Mil Jawa Deshbhakti Geet

तेरी मिट्टी में मिल जावां देशभक्ति गीत लिरिक्स | Teri Mitti Mai Mil Jawa Deshbhakti Geet Lyrics

सरफ़रोशी की तमन्ना लिरिक्स | Sarfaroshi Ki Tamanna Lyrics

Naaz Hai Watan Pe

नाज़ है वतन पे लिरिक्स | Naaz Hai Watan Pe Lyrics

Mera Rang De Basanti Chola Deshbhakti Geet Lyrics

मेरा रंगदे बसंती चोला देशभक्ति गीत लिरिक्स | Mera Rang De Basanti Chola Deshbhakti Geet Lyrics

Yah Kal Kal Chal Chal Bahati Kya Kehti Ganga Dhara

यह कल कल छल छल बहती क्या कहती गंगा धारा लिरिक्स | Yah Kal Kal Chal Chal Bahati Kya Kehti Ganga Dhara Lyrics

Shahido Tumahra Tiranga Shaan Se Aaj Lehra Raha Hai Lyrics

एह शहीदों तुम्हारा तिरंगा शान से आज लहरा रहा है लिरिक्स | Shahido Tumahra Tiranga Shaan Se Aaj Lehra Raha Hai Lyrics

Man Mast Fakri Dhari Hai

मन मस्त फकीरी धारी है देशभक्ति गीत लिरिक्स | Man Mast Fakri Dhari Hai Deshbhakti Geet

Ae Vatan Ae Vatan Humko Teri Kasam Lyrics

ऐ वतन ऐ वतन हमको तेरी क़सम देशभक्ति गीत लिरिक्स | Ae Vatan Ae Vatan Humko Teri Kasam Deshbhakti Geet Lyrics


हमें उम्मीद है की देशभक्तो को यह आर्टिकल “ पॉपुलर देशभक्ति गीत हिंदी में | Popular Desh Bhakti Song Lyrics ” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ पॉपुलर देशभक्ति गीत हिंदी में | Popular Desh Bhakti Song Lyrics ” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।


Dil Diya Hai Jaan Bhi Denge Aye Watan Tere Liye Lyrics
Desh Bhakti Song Lyrics

मेरा कर्मा तू, मेरा धर्मा तू ।
तेरा सबकुछ मैं, मेरा सबकुछ तू ।।

हर करम अपना करेंगे ऐ वतन तेरे लिए ।
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए ।।

तू मेरा कर्मा, तू मेरा धर्मा, तू मेरा अभिमान है,
ऐ वतन मेहबूब मेरे तुझपे दिल कुर्बान है ।
हम जिएंगे और मरेंगे ऐ वतन तेरे लिए,
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए ।।

हिन्दू मुस्लिम सिख इसाई, हमवतन हमनाम है,
जो करे इनको जुदा मजहब नहीं इल्ज़ाम है ।
हम जिएंगे और मरेंगे ऐ वतन तेरे लिए,
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए ।।

तेरी गलियों में चलाकर नफरतों की गोलियां,
लुटते है कुछ लुटेरे दुल्हनों की डोलियाँ ।
लूट रहे है आप वो अपन घरों को लूटकर,
खेलते हैं बेख़बर अपने लहू से होलिया ।।

दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए ।।

Desh Bhakti Song Lyrics Hindi

Desh Bhakti Song Lyrics

Chak De India Lyrics
Desh Bhakti Song Lyrics

कुछ करिए, कुछ करिए
नस नस मेरी खोले, हाय कुछ करिए
कुछ करिए, कुछ करिए
बस बस बड़ा बोले, अब कुछ करिए

हो ओ कोई तो चल ज़िद्द फड़िए, दुबे तरिये या मरिये
हाए, कोई तो चल ज़िद्द फड़िए, दुबे तरिये या मरिये

चक दे हो, चक दे इंडिया
चक दे हो, चक दे इंडिया
चक दे हो, चक दे इंडिया
चक दे हो, चक दे इंडिया

Nowhere to run nowhere to hide
This is the time just do or hide
Nowhere to run nowhere to hide
This is the time just do or hide

कुचों में गलियों में, राशन की फलियों में
बैलों में बीजों में, ईदों में तीजों में
रेतों के दानों में, फिल्मों के गानों में
सड़को के गड्ढों में, बातों के अड्डों में
हुंकारा आज भर ले, दस बारह बार कर ले
रेहना ना यार पीछे, कितना भी कोई खींचे
टस है ना मस है जी, ज़िद है तो ज़िद है जी
घीसना यूँ ही, पिसना यूँही, पिसना यूँही
बस करिए..

कोई तो चल ज़िद्द फड़िए, दुबे तरिये या मरिये
हाए कोई तो चल ज़िद्द फड़िए, दुबे तरिये या मरिये

चक दे हो , चक दे इंडिया
चक दे हो, चक दे इंडिया
चक दे हो, चक दे इंडिया
चक दे हो, चक दे इंडिया

Nowhere to run nowhere to hide
This is the time just do or hide
Nowhere to run nowhere to hide
This is the time just do or hide
चक दे.. चक दे.. चक दे… चक दे…

लड़ती पतंगों में, भिड़ती उमँगों में
खेलों के मेलों में, बलखाती रेलों में

गन्नों के मीठे में, खत्तर में, छीटे में
ढूँढो तो मिल जावे, तपता वो ईंटों में

तन ऐसा आज निखरे, और खुलके आज पिघले
मन जाए ऐसी होली, रग-रग में छलके बोली
टस है ना मस है जी, ज़िद है तो ज़िद है जी
घीसना यूँ ही, पिसना यूँ ही, पिसना यूँ ही
बस करिए..

कोई तो चल ज़िद्द फड़िए, दुबे तरिये या मरिये
कोई तो चल ज़िद्द फड़िए, दुबे तरिये या मरिये

(चक दे हो, चक दे इंडिया)-4

Desh Bhakti Song Lyrics Hindi

Desh Bhakti Song Lyrics

Sare Jahan Se Achha Lyrics
Lyrics Of Desh Bhakti Song In Hindi

Saare Jahan Se Achha
Hindustan Hamara
Hum Bulbule Hai Iski
Ye Gulsitan Hamara

Parbat Hai Iske Unche
Payari Hai Iski Nadiya
Parbat Hai Iske Unche
Payari Hai Iski Nadiya
Aakash Mein Isike
Gujri Hazaro Sadiya
Hasta Hai Bijliyo Par
Ye Aashiyan Hamara
Hum Bulbule Hai Iski
Ye Gulsitan Hamara
Saare Jahan Se Achha

Viraan Kar Diya Tha
Aandhi Ne Is Chaman Ko
Dekar Lahu Bachhaya
Gandhi Ne Is Chaman Ko
Raksha Karega Ishki
Har Naujawan Hamara
Hum Bulbule Hai Iski
Ye Gulsitan Hamara
Saare Jahan Se Achha

Aawaaj De Raha Hai
Ye Aman Ka Pujari
Ye Jung Aur Ladai
Humko Nahi Hai Pyari
Kya Kah Raha Hai Dekho
Kaumi Nishan Hamara
Hum Bulbule Hai Iski
Ye Gulsitan Hamara
Saare Jahan Se Achha.

Lyrics Of Desh Bhakti Song In Hindi

Desh Bhakti Song Lyrics In Hindi

Dedi Hame Azadi Bina Khadg Bina Dhaal Lyrics
Desh Bhakti Song Lyrics In Hindi

दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल

आंधी में भी जलती रही गाँधी तेरी मशाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल

धरती पे लड़ी तूने अजब ढंग की लड़ाई
दागी न कहीं तोप न बंदूक चलाई
दुश्मन के किले पर भी न की तूने चढ़ाई
वाह रे फ़क़ीर खूब करामात दिखाई

चुटकी में दुश्मनों को दिया देश से निकाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल

रघुपति राघव राजा राम

शतरंज बिछाकर यहाँ बैठा था जमाना
लगता था मुश्किल है फिरंगी को हराना
टक्कर थी बड़े जोर की दुश्मन भी था ताना
पर तू भी था बापू बड़ा उस्ताद पुराना

मारा वो कस के दांव के उलटी सभी की चाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल

रघुपति राघव राजा राम

जब जब तेरा बिगुल बजा जवान चल पड़े
मजदूर चल पड़े थे और किसान चल पड़े
हिन्दू व मुसलमान सिख पठान चल पड़े
क़दमों पे तेरी कोटि कोटि प्राण चल पड़े

Desh Bhakti Song Lyrics

फूलों की सेज छोड़ के दौड़े जवाहरलाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल

रघुपति राघव राजा राम

वाह रे फ़क़ीर खूब करामात दिखाई
चुटकी में दुश्मनों को दिया देश से निकाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल

साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
रघुपति राघव राजा राम

Desh Bhakti Song Lyrics In Hindi

लाखों में घूमता था लिये सत्य की सोंटी
वैसे तो देखने में थी हस्ती तेरी छोटी
लेकिन तुझे झुकती थी हिमालय की भी चोटी
दुनियाँ में तू बेजोड़ था इंसान बेमिसाल

साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
रघुपति राघव राजा राम

जग में कोई जिया है तो बापू तू ही जिया
तूने बतन की राह पे सब कुछ लुटा दिया
माँगा न कोई तख़्त न तो ताज ही लिया
अमृत दिया सभी को मगर खुद जहर पिया

जिस दिन तेरी चिता जली रोया था महाकाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल

Desh Bhakti Song Lyrics In Hindi


Aye Mere Watan Ke Logo
Lyrics Of Desh Bhakti Song

ऐ मेरे वतन के लोगों,
तुम खूब लगा लो नारा,
ये शुभ दिन हैं हम सब का,
लहरा लो तिरंगा प्यारा,
पर मत भूलो सीमा पर,
वीरों ने हैं प्राण गवाये,
कुछ याद उन्हें भी कर लो,
कुछ याद उन्हें भी कर लो,
जो लौट के घर ना आये,
जो लौट के घर ना आये।

ऐ मेरे वतन के लोगों,
ज़रा आँख में भर लो पानी,
जो शहीद हुये हैं उनकी,
ज़रा याद करो कुर्बानी,
ऐ मेरे वतन के लोगों,
ज़रा आँख में भर लो पानी,
जो शहीद हुये हैं उनकी,
ज़रा याद करो कुर्बानी।।

जब घायल हुआ हिमालय,
ख़तरे में पड़ी आज़ादी,
जब तक थी साँस लड़े वो,
जब तक थी साँस लड़े वो,
फिर अपनी जान बिछा दी,
संगीन पे धर कर माथा,
सो गये अमर बलिदानी,
जो शहीद हुये हैं उनकी,
ज़रा याद करो कुर्बानी।।

जब देश में थी दीवाली,
वो खेल रहे थे होली,
जब हम बैठे थे घरों में,
जब हम बैठे थे घरों में,
वो झेल रहे थे गोली,
थे धन्य जवान वो अपने,
थी धन्य वो उनकी जवानी
संगीन पे धर कर माथा,
सो गये अमर बलिदानी,
जो शहीद हुये हैं उनकी,
ज़रा याद करो कुर्बानी।।

Lyrics Of Desh Bhakti Song

कोई सिख कोई जाट मराठा,
कोई गुरखा कोई मद्रासी,
सरहद पर मरनेवाला,
सरहद पर मरनेवाला,
सरहद पर मरनेवाला,
हर वीर था भारत वासी,
जो खून गिरा पर्वत पर,
वो खून था हिंदुस्तानी,
जो शहीद हुये हैं उनकी,
ज़रा याद करो कुर्बानी।।

थी खून से लथपथ काया,
फिर भी बंदुक उठाके,
दस दस को एक ने मारा,
फिर गिर गये होश गँवा के,
जब अंत समय आया तो,
जब अंत समय आया तो,
कह गये के अब मरते हैं,
खुश रहना देश के प्यारों,
अब हम तो सफ़र करते हैं,
अब हम तो सफ़र करते हैं,
क्या लोग थे वो दीवाने,
क्या लोग थे वो अभिमानी,
जो शहीद हुये हैं उनकी,
ज़रा याद करो कुर्बानी।।

तुम भूल ना जाओ उनको,
इसलिए कही ये कहानी,
जो शहीद हुये हैं उनकी,
ज़रा याद करो कुर्बानी।।

जय हिंद, जय हिंद की सेना,
जय हिंद, जय हिंद की सेना।

Lyrics Of Desh Bhakti Song


Hum Honge Kamyab Ek Din Desh Bhakti Geet Lyrics

हम होंगे कामयाब,
हम होंगें कामयाब,
हम होंगें कामयाब एक दिन,
मन में है विश्वास,
पूरा है विश्वास,
हम होंगें कामयाब एक दिन।।

होगी शांति चारों ओर,
होगी शांति चारों ओर,
होगी शांति चारों ओर एक दिन,
मन में है विश्वास,
पूरा है विश्वास,
हम होंगें कामयाब एक दिन।।

हम चलेंगे साथ साथ,
डाल हाथों में हाथ,
हम चलेंगे साथ साथ एक दिन,
मन में है विश्वास,
पूरा है विश्वास,
हम होंगें कामयाब एक दिन।।

नहीं डर किसी का आज,
नहीं डर किसी का आज,
नहीं डर किसी का आज एक दिन,
मन में है विश्वास,
पूरा है विश्वास,
हम होंगें कामयाब एक दिन।।

हम होंगे कामयाब,
हम होंगें कामयाब,
हम होंगें कामयाब एक दिन,
मन में है विश्वास,
पूरा है विश्वास,
हम होंगें कामयाब एक दिन।।

Desh Bhakti Geet Lyrics

Desh Bhakti Geet Lyrics

Maa Tujhe Salaam | Desh Bhakti Geet In Hindi

माँ तुझे सलाम,
वन्दे मातरम, वन्दे मातरम,
वन्दे मातरम वन्दे मातरम।।

यहाँ वहाँ सारा जहाँ देख लिया है,
कहीं भी तेरे जैसा कोई नहीं है,
अस्सी नहीं सौ दिन दुनिया घूमा है,
नहीं कहीं तेरे जैसा कोई नहीं,
मैं गया जहाँ भी,
बस तेरी याद थी,
जो मेरे साथ थी,
मुझको तड़पाती, रुलाती,
सबसे प्यारी तेरी सूरत,
प्यार है बस तेरा प्यार ही,
माँ तुझे सलाम,
वन्दे मातरम, वन्दे मातरम,
वन्दे मातरम वन्दे मातरम।।

तेरे पास ही मैं आ रहा हूँ,
अपनी बाहें खोल दे,
ज़ोर से मुझको गले लगा ले,
मुझको फिर वो प्यार दे,
तू ही जिंदगी है,
तू ही मेरी मोहब्बत है,
तेरे ही पैरों में जन्नत है,
तू ही दिल तू जा माँ,
माँ तुझे सलाम,
वन्दे मातरम, वन्दे मातरम,
वन्दे मातरम वन्दे मातरम।।

Desh Bhakti Geet In Hindi

Desh Bhakti Geet In Hindi

Suno Gaur Se Duniya Walo Desh Bhakti Geet Hindi

सुनो गौर से दुनिया वालों,
बुरी नज़र ना हमपे डालो,
चाहे जितना ज़ोर लगालो,
सबसे आगे होंगे हिंदुस्तानी,
हिंदुस्तानी,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।

आओ हम मिल-जुल के,
बोलें अब तो यारा,
अपना जहाँ है सबसे प्यारा,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।।

जलते शरारें हैं,
पानी के धारे हैं,
हम काटे काटते नहीं,
जो वाद करते हैं,
करके निभाते हैं,
हम पीछे हटते नहीं
वक़्त है उम्र है,
जोश है और जान है,
ना झुकें ना मिटें,
देश तो अपनी शान है,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।।

सबके दिलों को,
मोहब्बत से बांधे जो,
हम ऐसी ज़ंजीर हैं,
ऊँची उड़ाने हैं,
ऊँचे इरादे हैं,
हम कल की तस्वीर हैं,
जो हमें प्यार दे,
हम उसे यार प्यार दें,
दोस्ती के लिए,
ज़िन्दगी अपनी वार दें,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।।

सुनो गौर से दुनिया वालों,
बुरी नज़र ना हमपे डालो,
चाहे जितना ज़ोर लगालो,
सबसे आगे होंगे हिंदुस्तानी,
हिंदुस्तानी,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।

आओ हम मिल-जुल के,
बोलें अब तो यारा,
अपना जहाँ है सबसे प्यारा,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।।

Desh Bhakti Geet Hindi

Desh Bhakti Geet Hindi

Ye Desh Hai Veer Javano Ka
Desh Bhakti Geet In Hindi Written

ये देश है वीर जवानों का,
अलबेलों का मस्तानों का,
इस देश का यारों क्या कहना,
ये देश है दुनिया का गहना।।

यहाँ चौड़ी छाती वीरों की,
यहाँ भोली शक्लें हीरों की,
यहाँ गाते हैं राँझे मस्ती में,
मचती में धूमें बस्ती में।।

पेड़ों में बहारें झूलों की,
राहों में कतारें फूलों की,
यहाँ हँसता है सावन बालों में,
खिलती हैं कलियाँ गालों में।।

कहीं दंगल शोख जवानों के,
कहीं करतब तीर कमानों के,
यहाँ नित नित मेले सजते हैं,
नित ढोल और ताशे बजते हैं।।

दिलबर के लिये दिलदार हैं हम,
दुश्मन के लिये तलवार हैं हम,
मैदां में अगर हम डट जाएं,
मुश्किल है कि पीछे हट जाएं।।

ये देश है वीर जवानों का,
अलबेलों का मस्तानों का,
इस देश का यारों क्या कहना,
ये देश है दुनिया का गहना।।

Desh Bhakti Geet In Hindi Written

Desh Bhakti Geet In Hindi Written

Suno Gaur Se Duniya Walo Lyrics
Desh Bhakti Geet Hindi Writing

सुनो गौर से दुनिया वालों,
बुरी नज़र ना हमपे डालो,
चाहे जितना ज़ोर लगालो,
सबसे आगे होंगे हिंदुस्तानी,
हिंदुस्तानी,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।

आओ हम मिल-जुल के,
बोलें अब तो यारा,
अपना जहाँ है सबसे प्यारा,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।।

जलते शरारें हैं,
पानी के धारे हैं,
हम काटे काटते नहीं,
जो वाद करते हैं,
करके निभाते हैं,
हम पीछे हटते नहीं
वक़्त है उम्र है,
जोश है और जान है,
ना झुकें ना मिटें,
देश तो अपनी शान है,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।।

Poem For Desh Bhakti In Hindi

सबके दिलों को,
मोहब्बत से बांधे जो,
हम ऐसी ज़ंजीर हैं,
ऊँची उड़ाने हैं,
ऊँचे इरादे हैं,
हम कल की तस्वीर हैं,
जो हमें प्यार दे,
हम उसे यार प्यार दें,
दोस्ती के लिए,
ज़िन्दगी अपनी वार दें,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।।

सुनो गौर से दुनिया वालों,
बुरी नज़र ना हमपे डालो,
चाहे जितना ज़ोर लगालो,
सबसे आगे होंगे हिंदुस्तानी,
हिंदुस्तानी,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।

आओ हम मिल-जुल के,
बोलें अब तो यारा,
अपना जहाँ है सबसे प्यारा,
हमने कहा है तुम भी कहो,
हमने कहा है जो तुम भी कहो।।

Desh Bhakti Geet Hindi Writing

Desh Bhakti Geet Hindi Writing

Ye Desh Hai Veer Javano Ka | Desh Bhakti Geet

ये देश है वीर जवानों का,
अलबेलों का मस्तानों का,
इस देश का यारों क्या कहना,
ये देश है दुनिया का गहना।।

यहाँ चौड़ी छाती वीरों की,
यहाँ भोली शक्लें हीरों की,
यहाँ गाते हैं राँझे मस्ती में,
मचती में धूमें बस्ती में।।

पेड़ों में बहारें झूलों की,
राहों में कतारें फूलों की,
यहाँ हँसता है सावन बालों में,
खिलती हैं कलियाँ गालों में।।

कहीं दंगल शोख जवानों के,
कहीं करतब तीर कमानों के,
यहाँ नित नित मेले सजते हैं,
नित ढोल और ताशे बजते हैं।।

दिलबर के लिये दिलदार हैं हम,
दुश्मन के लिये तलवार हैं हम,
मैदां में अगर हम डट जाएं,
मुश्किल है कि पीछे हट जाएं।।

ये देश है वीर जवानों का,
अलबेलों का मस्तानों का,
इस देश का यारों क्या कहना,
ये देश है दुनिया का गहना।।

Desh Bhakti Geet

Desh Bhakti Geet

Chandan Hai Is Desh Ki Mati Lyrics
Desh Bhakti Hindi Poem

चंदन है इस देश की माटी,
तपोभूमि हर ग्राम है ।
हर बाला देवी की प्रतिमा,
बच्चा बच्चा राम है ॥

हर शरीर मंदिर सा पावन,
हर मानव उपकारी है ।
जहॉं सिंह बन गये खिलौने,
गाय जहॉं मॉं प्यारी है ।
जहॉं सवेरा शंख बजाता,
लोरी गाती शाम है ॥

हर बाला देवी की प्रतिमा,
बच्चा बच्चा राम है ॥

Poem For Desh Bhakti In Hindi

जहॉं कर्म से भाग्य बदलता,
श्रम निष्ठा कल्याणी है ।
त्याग और तप की गाथाऍं,
गाती कवि की वाणी है ।
ज्ञान जहॉं का गंगाजल सा,
निर्मल है अविराम है ॥

हर बाला देवी की प्रतिमा,
बच्चा बच्चा राम है ॥

जिस के सैनिक समरभूमि मे,
गाया करते गीता है ।
जहॉं खेत मे हल के नीचे,
खेला करती सीता है ।
जीवन का आदर्श जहॉं पर,
परमेश्वर का धाम है ॥

हर बाला देवी की प्रतिमा,
बच्चा बच्चा राम है ॥

चंदन है इस देश की माटी,
तपोभूमि हर ग्राम है ।
हर बाला देवी की प्रतिमा,
बच्चा बच्चा राम है ॥

Desh Bhakti Hindi Poem

Desh Bhakti Hindi Poem

Jis Desh Me Ganga Bahti Hai Lyrics
Desh Bhakti Poem In Hindi

होठों पे सच्चाई रहती है,
जहाँ दिल में सफ़ाई रहती है,
हम उस देश के वासी हैं,
हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है,
जिस देश में गंगा बहती है।।

मेहमां जो हमारा होता है,
वो जान से प्यारा होता है,
ज़्यादा की नहीं लालच हमको,
थोड़े में गुज़ारा होता है,
थोड़े में गुज़ारा होता है,
बच्चों के लिये जो धरती माँ,
सदियों से सभी कुछ सहती है,
हम उस देश के वासी हैं,
हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है,
जिस देश में गंगा बहती है।।

Poem For Desh Bhakti In Hindi

कुछ लोग जो ज़्यादा जानते हैं,
इन्सान को कम पहचानते हैं,
ये पूरब है पूरब वाले,
हर जान की कीमत जानते हैं,
हर जान की कीमत जानते हैं,
मिल जुल के रहो और प्यार करो,
एक चीज़ यही जो रहती है,
हम उस देश के वासी हैं,
हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है,
जिस देश में गंगा बहती है।।

जो जिससे मिला सिखा हमने,
गैरों को भी अपनाया हमने,
मतलब के लिये अंधे होकर,
रोटी को नही पूजा हमने,
रोटी को नही पूजा हमने,
अब हम तो क्या सारी दुनिया,
सारी दुनिया से कहती है,
हम उस देश के वासी हैं,
हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है,
जिस देश में गंगा बहती है।।

होठों पे सच्चाई रहती है,
जहाँ दिल में सफ़ाई रहती है,
हम उस देश के वासी हैं,
हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है,
जिस देश में गंगा बहती है।।

Desh Bhakti Poem In Hindi

Desh Bhakti Poem In Hindi