shri shiv stuti Header

तुम्हारा ब्रज में फिर अवतार हो जाए लिरिक्स | Tumhara Braj Me Phir Avtar Ho Jaye Lyrics

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “तुम्हारा ब्रज में फिर अवतार हो जाए लिरिक्स | Tumhara Braj Me Phir Avtar Ho Jaye Lyrics” चिंतन त्रिवेदी जी के द्वारा गाया हुआ है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Tumhara Braj Me Phir Avtar Ho Jaye Lyrics

जो करुणाकर तुम्हारा ब्रज में
फिर अवतार हो जाए,
तो भक्तों का चमन उजड़ा हुआ
गुलज़ार हो जाए,
जो करुणाकर तुम्हारा ब्रज में
फिर अवतार हो जाए॥

लुटाकर दिल जो बैठे हैं
वो रो रोकर ये कहते हैं,
किसी सूरत से सुन्दर श्याम का
दीदार हो जाए,
जो करुणाकर तुम्हारा ब्रज में
फिर अवतार हो जाए॥

बजा दो रसमयी अनुराग की
वो बांसुरी अपनी,
के जिसकी तान का हर तन मैं
पैदाकर हो जाए,
जो करुणाकर तुम्हारा ब्रज में
फिर अवतार हो जाए॥

Tumhara Braj Me Phir Avtar Ho Jaye Lyrics

हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “तुम्हारा ब्रज में फिर अवतार हो जाए लिरिक्स | Tumhara Braj Me Phir Avtar Ho Jaye Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “तुम्हारा ब्रज में फिर अवतार हो जाए लिरिक्स | Tumhara Braj Me Phir Avtar Ho Jaye Lyrics” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment