shri shiv stuti Header

फागण की रुत लिरिक्स | Fagan Ki Rut Lyrics

श्याम बाबा का एक अद्बुध भजन “फागण की रुत लिरिक्स | Fagan Ki Rut Lyrics” साक्षी अग्रवाल जी के द्वारा गाया हुआ है। इनकी भक्ति से श्याम जी की कृपा बनी रहती है। बाबा श्याम अपने भक्तो पर अपना आशीर्वाद बनाये रखते है।


Fagan Ki Rut Lyrics

फागण की रुत ये लाइ बहार
मन में उमंगें छाई अपार
प्यारा ये नज़ारा है मेरे सांवरे
झूमे जग सारा है मेरे सांवरे

आ गए हम बाबा तेरी चौखट पे तुझको मनाने
मांगने ना आये आये थोड़ा सा रंग लगाने
रंगो से लाल करें चेहरा ये तुम्हारा है मेरे सांवरे
झूमे जग सारा है मेरे सांवरे

सुन सुनाई देती ढोल ढपली की तान सुहानी
तू भी आजा बाबा मत कर श्याम तू मनमानी
आज तेरे भक्तों ने तुझको पुकारा है मेरे सांवरे
झूमे जग सारा है मेरे सांवरे

सोच ले कन्हैया ये मौका दोबारा ना आये
प्रेमियों को अपने बोल कान्हा क्यों इतना सताये
देख ज़रा शिवम् ये लाल तुम्हारा है मेरे सांवरे
झूमे जग सारा है मेरे सांवरे

Fagan Ki Rut Lyrics

हमें उम्मीद है की श्याम जी के भक्तो को यह आर्टिकल “फागण की रुत लिरिक्स | Fagan Ki Rut Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “फागण की रुत लिरिक्स | Fagan Ki Rut Lyrics” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment