राधा नाम की लगायी फुलवारी लिरिक्स | Radha Naam Ki Lagayi Phulwari Lyrics

राधा जी का भजन “राधा नाम की लगायी फुलवारी लिरिक्स | Radha Naam Ki Lagayi Phulwari Lyricss” चित्र विचित्र जी महाराज के द्वारा गाया हुआ है। इस भजन में राधा जी के भक्त माँ राधा से अपना आशीर्वाद बनाये रखने की प्रार्थना करते है।


राधे नाम की लगायी फुलवारी लिरिक्स

राधा नाम की लगाई फुलवारी,
के पत्ता पत्ता श्याम बोलदा ।
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता,
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता ।।

कली कली मैं महक उसी की,
हर पक्षी मैं चहक उसी की ।
नाचे मोरे कोकें, कोयलिया कारी,
के पत्ता पत्ता श्याम बोलदा ।।

राधा नाम का खिल गया उपवन,
महक उठा सारा वृन्दावन ।
गूंजे गली गली में शोर भारी,
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता ।।

प्रेम के जल से सिंची ये बगिया,
महके ग्वाले महकीं सखिया
सब रसिकन को लागी हैं प्यारी,
के पत्ता पत्ता श्याम बोलदा ।।

‘चित्र विचित्र’ छाई हरियाली,
फिरत राधा संग बनवारी
ऐसी पागल की बगिया है न्यारी
के पत्ता पत्ता श्याम बोलदा ।।


Radha Naam Ki Lagayi Phulwari Lyrics

Radha Naam Ki Lagayi Phulwari,
Ke Patta Patta Shyam Bolda ।
Ke Patta Patta Shyam Bolda,
Ke Patta Patta Shyam Bolda ।।

Kali Kali Me Mahak Usi Ki,
Har Pakshi Me Chahak Usi Ki ।
Nache More Konke, Koyliya Kaari,
Ke Patta Patta Shyam Bolda ।।

Radha Naam Ka Khil Gaya Upwan,
Mahak Utha Sara Vrandawan ।
Gunje Gali Gali Me Shor Bhari,
Ke Patta Patta Shyam Bolda ।।

Prem Ke Jal Se Sinchi Ye Bagiya,
Mahke Gwale Mahki Sakhiya ।
Sab Rasikan Ko Lagi Hai Pyari,
Ke Patta Patta Shyam Bolda ।।

Chitr Vichitr Chhai Hariyali,
Firat Radha Sang Banwari ।
Aisi Pagal Ki Bagiya Hai Nyari,
Ke Patta Patta Shyam Bolda ।।

Radha Naam Ki Lagayi Phulwari Lyrics

हमें उम्मीद है की राधा रानी के भक्तो को यह आर्टिकल “राधा नाम की लगायी फुलवारी लिरिक्स | Radha Naam Ki Lagayi Phulwari Lyrics“+ Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Radha Naam Ki Lagayi Phulwari Lyrics ” भजन पर आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment

आरती : जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी