हनुमान गायत्री मन्त्रः | Hanuman Gayatri Mantra

पवन पुत्र हनुमान जी का गायत्री मन्त्रः “हनुमान गायत्री मन्त्रः | Hanuman Gayatri Mantra Lyrics” – यहाँ दिया गया है। इस गायत्री मंत्र का नियमित रूप से पाठ करने से हनुमान जी का आर्शीवाद हमेसा बना रहता है।


Hanuman Gayatri Mantra

मंत्र – 1

ऊँ रामदूताय् विद्महे, कपिराजाय धीमहि, तन्नो हनुमत् प्रचोदयात।

मंत्र – 2

ऊँ आंजनेयाय् विद्महे, महाबलाय् धीमहि तन्नो मारुतिः प्रचोदयात।

मंत्र – 3

ऊँ अंजनिसुताय् विद्महे, वायुपुत्राय् धीमहि तन्नो मारुतिः प्रचोदयात्।

Om Ram Dhutay Vidhamahe
Kapirajay Dimahe
Anjaney Putra Chiranjeeve
Tanno Hanumant Prachodayat

Om Ram Dhutay Vidhamahe
Kapirajay Dimahe
Anjaney Putra Chiranjeeve
Tanno Hanumant Prachodayat

Hanuman Gayatri Mantra

हमें उम्मीद है की श्री राम के भक्त हनुमान जी के भक्तो को यह आर्टिकल “हनुमान गायत्री मन्त्रः | Hanuman Gayatri Mantra Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here