बरसा दाता सुख बरसा लिरिक्स | Barsa Data Sukh Barsa Lyrics

यह अद्बुध जैन भजन “बरसा दाता सुख बरसा लिरिक्स | Barsa Data Sukh Barsa Lyrics” Vicky D Parekh जी का है। इस भजन में ईश्वर से सभी पर अपनी करुणा बरसाने की गुजारिश की गयी है।


Barsa Data Sukh Barsa Lyrics

बरसा दाता सुख बरसा,
आँगन आँगन सुख बरसा,
चुन चुन कांटे नफरत के,
प्यार अमन के फूल खिला।

तन से कोई है दुखी,
मन से कोई है दुखी,
हे प्रभु दया करो,
सारा जहान हो सुखी,
हर पल मांगू यही दुआ,
आँगन आँगन सुख बरसा,
बरसा दाता सुख बरसा,
आँगन आँगन सुख बरसा।

झोलियाँ सुखो की तुम,
सबकी दाता भर ही दो,
सतगुरु जी तुम हमें,
सब्र और शुक्र भी दो,
सबके दुखो की तू है दया,
आँगन आँगन सुख बरसा,
बरसा दाता सुख बरसा,
आँगन आँगन सुख बरसा।

बेर क्लेश को मिटा,
दाता सकल संसार से,
नाम का स्मरण करे,
मिलके सारे प्यार से,
मानव से मानव हो ना जुदा,
आँगन आँगन सुख बरसा,
भाई से भाई हो ना जुदा,
आँगन आँगन सुख बरसा,
माँ से बेटा हो ना जुदा,
आँगन आँगन सुख बरसा।

बरसा दाता सुख बरसा,
आँगन आँगन सुख बरसा,
चुन चुन कांटे नफरत के,
प्यार अमन के फूल खिला।

Barsa Data Sukh Barsa Lyrics

हमें उम्मीद है की पारस प्यारे के भक्तो को यह आर्टिकल “बरसा दाता सुख बरसा लिरिक्स | Barsa Data Sukh Barsa Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। Barsa Data Sukh Barsa Lyrics के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here