हरि नाम के रस को पी पी कर आनंद में जीना सिख लिया लिरिक्स | Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar Aanand Mein Jeena Sikh Liya Lyrics

यह अद्बुध हरी भजन “हरि नाम के रस को पी पी कर आनंद में जीना सिख लिया लिरिक्स | Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar Aanand Mein Jeena Sikh Liya Lyrics” चित्र विचित्र जी महाराज का है। इस भजन में हरी भक्त भगवन विष्णु के एक बार दर्शन की अभिलाषा व्यक्त कर रहे है।


हरि नाम के रस को पी पी कर आनंद में जीना सिख लिया लिरिक्स

हरि नाम के रस को पी पीकर,
आनंद में जीना सीख लिया,
हरी नाम के रस को पी पीकर,
आनंद में जीना सीख लिया,
आनंद में जीना सीख लिया,
आनंद में जीना सीख लिया,
प्रभु प्रेम प्याला सत्संग में,
जाकर के पीना सीख लिया,
हरी नाम के रस को पी पीकर,
आनंद में जीना सीख लिया।।

हरी नाम की मस्ती अनोखी है,
पी करके हमने देखी हैं,
सब चिंताओं को छोड़ के अब,
मस्ती में रहना सीख लिया,
हरी नाम के रस को पी पीकर,
आनंद में जीना सीख लिया।।

पीकर के आनंद आता है,
यह झूठा जग नहीं भाता है,
तुम भी थोड़ी सी पिया करो,
यह सब से कहना सीख लिया,
हरी नाम के रस को पी पीकर,
आनंद में जीना सीख लिया।।

हरि नाम में चूर जो रहते हैं,
माया से दूर वो रहते हैं,
हरी याद रहे हर पल हमको,
प्रभु नाम को जपना सीख लिया,
हरी नाम के रस को पी पीकर,
आनंद में जीना सीख लिया।।

कहना यह ‘चित्र विचित्र’ का है,
मुश्किल से मिलता मौका है,
हरि नाम के पागल बन जाओ,
सब को समझाना सीख लिया,
हरी नाम के रस को पी पीकर,
आनंद में जीना सीख लिया।।

हरि नाम के रस को पी पीकर,
आनंद में जीना सीख लिया,
हरी नाम के रस को पी पीकर,
आनंद में जीना सीख लिया,
आनंद में जीना सीख लिया,
आनंद में जीना सीख लिया,
प्रभु प्रेम प्याला सत्संग में,
जाकर के पीना सीख लिया,
हरी नाम के रस को पी पीकर,
आनंद में जीना सीख लिया।।


Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar Aanand Mein Jeena Sikh Liya Lyrics

Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar
Aanand Mein Jeena Sikh Liya
Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar
Aanand Mein Jeena Sikh Liya
Aanand Me Jeena Sikh Liya
Aanand Me Jeena Sikh Liya

Prabhu Prem Pyala Satsang Me
Jakar Ke Peena Sikh Liya
Hari Naam Ke Ras Ko Pi Pikar
Aanand Me Jeena Sikh Liya

Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar
Aanand Mein Jeena Sikh Liya
Sab Chintao Ko Chhod Ke Ab
Masti Me Rehna Sikh Liya
Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar
Aanand Mein Jeena Sikh Liya

Pikar Ke Aanand Aata Hai
Yah Jootha Jag Nahi Bhata Hai
Tum Bhi Thodi Si Piya Karo
Yah Sab Se Kehna Sikh Liya
Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar
Aanand Mein Jeena Sikh Liya

Hari Naam Me Choor Jo Rahte Hai
Maaya Se Door Wo Rehte Hai
Hari Yaad Rahe Har Pal Humko
Prabhu Naam Ko Japna Sikh Liya
Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar
Aanand Mein Jeena Sikh Liya

Kahna Yah Chitr Vichitr Ka Hai
Mushkil Se Milta Mauka Hai
Hari Naam Ke Pagal Ban Jao
Sabko Samajhna Sikh Liya
Hari Naam Ke Ras Ko Pi Pikar
Aanand Me Jeena Sikh Liya

Hari Naam Ke Ras Ko Pi Pikar
Aanand Me Jeena Sikh Liya
Hari Naam Ke Ras Ko Pi Pikar
Aanand Me Jeena Sikh Liya
Aanand Me Jeena Sikh Liya
Aanand Me Jeena Sikh Liya

Prabhu Prem Pyala Satsang Me
Jakar Ke Peena Sikh Liya
Hari Naam Ke Ras Ko Pi Pikar
Aanand Me Jeena Sikh Liya

Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar Aanand Mein Jeena Sikh Liya Lyrics

हमें उम्मीद है की भगवान विष्णु के भक्तो को यह आर्टिकल “हरि नाम के रस को पी पी कर आनंद में जीना सिख लिया लिरिक्स | Hari Naam Ke Ras Ko Pe Pekar Aanand Mein Jeena Sikh Liya Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here