तू छोड़ फिकर चल खाटू में लिरिक्स | Tu Chod Fikar Chal Khatu Me Lyrics

श्याम बाबा का एक अद्बुध भजन “तू छोड़ फिकर चल खाटू में लिरिक्स | Tu Chod Fikar Chal Khatu Me Lyrics” रजनी राजस्थानी जी के द्वारा गाया हुआ है। इनकी भक्ति से श्याम जी की कृपा बनी रहती है। बाबा श्याम अपने भक्तो पर अपना आशीर्वाद बनाये रखते है।


Tu Chod Fikar Chal Khatu Me Lyrics

तू छोड़ फिकर चल खाटू में,
दिलदार सांवरा रहता है ।
दातार नहीं इसके जैसा,,
ये सारा जमाना कहता है ।।

।। तू छोड़ फिकर चल खाटु में
दिलदार सांवरा रहता है ।।

तिरलोक पे हुकुम चले इसका,
ये तीन बाण का धारी है,
ये लख लख देता है सबको,
कहलाता लखदातारी है ।

मेरे श्याम धणी के होते हुए,
तू दर दर काहे भटकता है,
तू छोड़ फिकर चल खाटू में,
दिलदार सांवरा रहता है ।।

दुःख दर्द नहीं टिक पाते,
यहाँ मेरे श्याम का ऐसा द्वारा है,
ना जाने कितनी बिगड़ी हुई,
किस्मत को इसने संवारा है ।

सभी श्याम प्रेमियों के ऊपर,
यहाँ प्यार ही प्यार बरसता है,
तू छोड़ फिकर चल खाटू में,
दिलदार सांवरा रहता है ।।

उसका जीवन खुशियों से भरा,
जिसे श्याम का मेरे प्यार मिला,
करी ऐसी कृपा वरदानी ने,
विश्वास का ऐसा फूल खिला ।

अब आँख में आंसू आते नहीं,
कुंदन तो केवल हँसता है,
तू छोड़ फिकर चल खाटू में,
दिलदार सांवरा रहता है ।।

Tu Chod Fikar Chal Khatu Me Lyrics

हमें उम्मीद है की श्याम जी के भक्तो को यह आर्टिकल “तू छोड़ फिकर चल खाटू में लिरिक्स | Tu Chod Fikar Chal Khatu Me Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Tu Chod Fikar Chal Khatu Me Lyrics” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment

आरती : जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी