मैं हु तेरा ऐसा भिखारी पड़ा रहू बस तेरे द्वार | Main Hu Tera Aisa Bhikhari Pda Rahu Bas Tere Dwar

श्याम बाबा का एक अद्बुध भजन जिसको सुनकर आपका हृदय करुणा से भर जायेगा। यह भजन “मैं हु तेरा ऐसा भिखारी | Main Hu Tera Aisa Bhikhari Pda Rahu Bas Tere Dwar” अनिल मित्तल जी के द्वारा गाया हुआ है। इनकी भक्ति से श्याम जी की कृपा बनी रहती है। बाबा श्याम अपने भक्तो पर अपना आशीर्वाद बनाये रखते है।


Main Hu Tera Aisa Bhikhari Pda Rahu Bas Tere Dwar

मैं हु तेरा ऐसा भिखारी पड़ा रहू बस तेरे द्वार
और कहा मैं जाऊ संवारे कौन करेगा ऐसे पयार
मैं हु तेरा ऐसा भिखारी पड़ा रहू बस तेरे द्वार

एक प्राथना तुम से बाबा अपना लो न ठुकराना
नोकर रख लो अपने दर का करुगा तेरा शुकराना
पड़ा रहूगा चोकठ तेरी करता रहूगा मैं दीदार
मैं हु तेरा ऐसा भिखारी पड़ा रहू बस तेरे द्वार

जद जद मैंने हाथ पसारे तूने हाथ बडाया है
तूने मेरी राह बनाई रास्ता तूने दिखाया है,
मैं चला तो साथ मेरे तू चल पड़ा मेरे सरकार
मैं हु तेरा ऐसा भिखारी पड़ा रहू बस तेरे द्वार

घेरा मुझको दुखो ने जब पास खड़ा तू पाया है
रोया मैं जब मेरे संवारे तूने तो ही हस्या है
कैसे भूलू बाबा तेरे मुझपे है इतने उपकार
मैं हु तेरा ऐसा भिखारी पड़ा रहू बस तेरे द्वार

मैं तो हु न तेरे काबिल फिर भी मुझे निभा लेना
राज मेहर को श्री चरणों में नाथ मेरे तू जगह देना
अनिल मित्तल तेरे रंग में रंग बैठा मेरे दातार
मैं हु तेरा ऐसा भिखारी पड़ा रहू बस तेरे द्वार

Main Hu Tera Aisa Bhikhari Pda Rahu Bas Tere Dwar

हमें उम्मीद है की श्याम जी के भक्तो को यह आर्टिकल “मैं हु तेरा ऐसा भिखारी पड़ा रहू बस तेरे द्वार | Main Hu Tera Aisa Bhikhari Pda Rahu Bas Tere Dwar” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। Main Hu Tera Aisa Bhikhari Pda Rahu Bas Tere Dwar भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here