राम तेरी गंगा मैली हो गई – Ram Teri Ganga Meli Ho Gai

मर्यादा पुरषोत्तम श्री राम का अति पावन भजन “राम तेरी गंगा मैली हो गई – Ram Teri Ganga Meli Ho Gai” – सतवीर सिंह जी के द्वारा गाया गया है। इस भजन में राम भक्ति की महिमा का बखान किया गया है।

Ram Teri Ganga Meli Ho Gai Lyrics

सुनो तो गंगा ये क्या सुनाए
के मेरे तटपर जो लोग आए
जिन्होंने ऐसे नियम बनाए
के प्राण जाए पर वचन न जाए
गंगा हमारी कहे बात ये रोते रोते

राम तेरी गंगा मैली हो गई
पापियों के पाप धोते धोते
   

हम उस देशके वासी हैं जिस देशमे गंगा बहती
ऋषियोंके संग रहनेवाली पतितोंके संग रहती
ना तो होठोंपे सच्चाई नही दिलमे सफ़ाई
करके गंगाको खराब देते गंगाकी दुहाई
करे क्या बिचारी इसे अपनेही लोग डुबोते …

राम तेरी गंगा मैली हो गई
पापियों के पाप धोते धोते  
 

वही है धरती वही है गंगा बदले है गंगावाले
सबके हाथ लहू से रंगे हैं मुख उजले मन काले
दिये वचन भुलाके झूठी सौगंध खाके
अपनी आत्मा गिराके चलें सरको उठाके
अब तो ये पापी गंगा जलसेभी शुद्ध न होते …

राम तेरी गंगा मैली हो गई
पापियों के पाप धोते धोते

ram teri ganga meli ho gai

हमें उम्मीद है की श्री राम के भक्तो को यह आर्टिकल राम तेरी गंगा मैली हो गई – Ram Teri Ganga Meli Ho Gai + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here