shri shiv stuti Header

मेरे मन में बस गयी है मोहन छवि तुम्हारी लिरिक्स | Mere Man Me Bas Gayi Hai Mohan Chavi Tumhari Lyrics

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “मेरे मन में बस गयी है मोहन छवि तुम्हारी लिरिक्स | Mere Man Me Bas Gayi Hai Mohan Chavi Tumhari Lyrics” पंडित नीरज जी के द्वारा गाया हुआ है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Mere Man Me Bas Gayi Hai Mohan Chavi Tumhari Lyrics

मेरे मन में बस गयी है मोहन छवि तुम्हारी

नैनो में कैसा जादू मुस्कान कितनी प्यारी
मेरे मन में बस गयी है मोहन छवि तुम्हारी।।

तेरी अदा पे होते चर्चे गली गली में
कैसे तुम्हे भुलादु रहते हो मेरे दिल में
धड़कनो में तुम हो हर सांस तुमपे वारि
मेरे मन में बस गयी है मोहन छवि तुम्हारी।।

सुन्दर सी तेरी सूरत लगती है भोली भली
गालो पे चूमती है भवरे सी लत ये काली
मीठी सी तेरी बोली अधरों पे तेरे लाली
मेरे मन में बस गयी है मोहन छवि तुम्हारी।।

दासी यशोदा कहती तूने जिंदगी संवरी
अपना बनाया मुझको मेरी हस्ती ही निखरी
जाऊं मैं तेरे सदके तेरी हर छटा निराली
मेरे मन में बस गयी है मोहन छवि तुम्हारी।।

मेरे मन में बस गयी है मोहन छवि तुम्हारी
नैनो में कैसा जादू मुस्कान कितनी प्यारी
मेरे मन में बस गयी है मोहन छवि तुम्हारी।।

Mere Man Me Bas Gayi Hai Mohan Chavi Tumhari Lyrics

हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “मेरे मन में बस गयी है मोहन छवि तुम्हारी लिरिक्स | Mere Man Me Bas Gayi Hai Mohan Chavi Tumhari Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Mere Man Me Bas Gayi Hai Mohan Chavi Tumhari Lyrics” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment