महाकाल बाबा क्षिप्रा किनारे लिरिक्स | Mahakal Baba Shipra Kinare Lyrics

भगवान शिव का भजन “महाकाल बाबा क्षिप्रा किनारे लिरिक्स | Mahakal Baba Shipra Kinare Lyrics” पवन शर्मा जी के द्वारा गाया हुआ है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Mahakal Baba Shipra Kinare Lyrics

महाकाल बाबा क्षिप्रा किनारे,
तुम्हे जल चढ़ाये सवेरे सवेरे ।
इनकी आरती में जरा चल के देखो,
भस्मी रमाये सवेरे सवेरे ।।

सभी तीर्थो में क्षिप्रा बड़ी है,
किनारे किनारे जमाते पड़ी है ।
और देवता भी आते है नहाने,
जरा चल के देखो सवेरे सवेरे ।।

महांकाल बाबा क्षिप्रा किनारे ।
तुम्हे जल चढ़ाये सवेरे सवेरे ।।

हरसिद्धि माँ की महिमा निराली,
अखण्ड ज्योत जलती माँ की निराली ।
जो भी यहाँ आता खाली नहीं जाता,
जरा चल के देखो सवेरे सवेरे ।।

महाकाल बाबा क्षिप्रा किनारे ।
तुम्हे जल चढ़ाये सवेरे सवेरे ।।

बड़े गणपति जी मूषक सवारी,
रिद्धि सिद्धि दोनों साथ है तुम्हारे ।
लड्डूओ का भोग लगे तुमको प्यारा,
जरा चल के देखो सवेरे सवेरे ।।

महांकाल बाबा क्षिप्रा किनारे ।
तुम्हे जल चढ़ाये सवेरे सवेरे।।

महाकाल बाबा क्षिप्रा किनारे,
तुम्हे जल चढ़ाये सवेरे सवेरे ।
इनकी आरती में जरा चल के देखो,
भस्मी रमाये सवेरे सवेरे ।।


हमें उम्मीद है की भगवान शिव के भक्तो को यह आर्टिकल “महाकाल बाबा क्षिप्रा किनारे लिरिक्स | Mahakal Baba Shipra Kinare Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Mahakal Baba Shipra Kinare Lyrics” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment