Khatu Nagri Me Ud Rahi Dhul Lyrics | खाटू नगरी में उड़ रही धुल लिरिक्स

श्याम बाबा का एक अद्बुध भजन “Khatu Nagri Me Ud Rahi Dhul Lyrics | खाटू नगरी में उड़ रही धुल लिरिक्स” कन्हैया मित्तल जी के द्वारा गाया हुआ है। इनकी भक्ति से श्याम जी की कृपा बनी रहती है। बाबा श्याम अपने भक्तो पर अपना आशीर्वाद बनाये रखते है।


खाटू नगरी में उड़ रही धुल लिरिक्स

दोहा
खाटू के गाँव में,
बस्या म्हारा घनश्याम,
जिसकी चरण धूलि से,
बन जाता बिगड़ा काम।

खाटू गाँव में उड़ रही धुल,
धुल मोहे प्यारी लगे,
प्यारी लगे मोहे प्यारी लगे,
प्यारी लगे मोहे प्यारी लगे,
इस धुल में दुःख गई भूल,
धुल मोहे प्यारी लगे,
खाटु गाँव में उड़ रही धुल,
धुल मोहे प्यारी लगे।।

उड़ उड़ धूल मेरे माथे पे आ गई,
उड़ उड़ धूल मेरे माथे पे आ गई,
हां मैंने तिलक किए भरपूर,
धुल मोहे प्यारी लगे,
खाटु गाँव में उड़ रही धुल,
धुल मोहे प्यारी लगे।।

उड़ उड़ धूल मेरे नैनो में आ गई,
उड़ उड़ धूल मेरे नैनो में आ गई,
हाँ मैंने दर्शन किए भरपूर,
धुल मोहे प्यारी लगे,
खाटु गाँव में उड़ रही धुल,
धुल मोहे प्यारी लगे।।

उड़ उड़ धूल मेरे होंठों पे आ गई,
उड़ उड़ धूल मेरे होंठों पे आ गई,
हां मैंने भजन किए भरपूर,
धुल मोहे प्यारी लगे,
खाटु गाँव में उड़ रही धुल,
धुल मोहे प्यारी लगे।।

उड़ उड़ धूल मेरे हाथों में आ गई,
उड़ उड़ धूल मेरे हाथों में आ गई,
हां मैंने ताली बजाई भरपूर,
धुल मोहे प्यारी लगे,
खाटु गाँव में उड़ रही धुल,
धुल मोहे प्यारी लगे।।

उड़ उड़ धूल मेरे साथ में ही आ गई,
उड़ उड़ धूल मेरे साथ में ही आ गई,
जी मैंने श्याम मनाया भरपूर,
धुल मोहे प्यारी लगे,
खाटु गाँव में उड़ रही धुल,
धुल मोहे प्यारी लगे।।

खाटू गाँव में उड़ रही धुल,
धुल मोहे प्यारी लगे,
प्यारी लगे मोहे प्यारी लगे,
प्यारी लगे मोहे प्यारी लगे,
इस धुल में दुःख गई भूल,
धुल मोहे प्यारी लगे,
खाटु गाँव में उड़ रही धुल,
धुल मोहे प्यारी लगे।।


खाटू नगरी में उड़ रही धुल लिरिक्स

Doha
Khatu Ke Gaav Me
Basya Mahara Ghanshyam
Jiski Charan Dhuli Se
Ban Jata Bigada Kaam

Khatu Gaav Me Ud Rahi Dhul
Dhul Mohe Pyari Laage
Pyari Lage Mohe Pyari Lage
Pyari Lage Mohe Pyari Lage
Is Dhul Me Dukh Gayi Bhul
Dhul Mohe Pyari Lage
Khatu Gaav Me Ud Rahi Dhul
Dhul Mohe Pyari Lage

Khaatu Nagari Mein Ud Rahi Dhul,
Dhul Mohe Pyaari Lage,
Khaatu Nagari Mein Ud Rahi Dhul,
Dhul Mohe Pyaari Lage.

Ud Ud Dhul More Maathan Pe Aavai,
Mainne Tilak Lagaaye Bharapur,
Dhul Mohe Pyaari Lage.
Khaatu Nagari Mein Ud Rahi Dhul,
Dhul Mohe Pyaari Lage.

Ud Ud Dhul More Nainann Pe Aavai,
Darshan Kiye Bharapur,
Dhul Mohe Pyaari Lage.
Khaatu Nagari Mein Ud Rahi Dhul,
Dhul Mohe Pyaari Lage.

Ud Ud Dhul Mere Honto Pe Aa Gayi
Ha Mene Bhajan Kiye Bharpur
Dhul Mohe Pyaari Lage.
Khaatu Nagari Mein Ud Rahi Dhul,
Dhul Mohe Pyaari Lage.

Ud Ud Dhul Mere Haathan Pe Aavai,
Mainne Taaliyaan Bhajai Bharapur
Dhul Mohe Pyaari Lage.
Khaatu Nagari Mein Ud Rahi Dhul,
Dhul Mohe Pyaari Lage.

Ud Ud Dhul More Pairan Pe Aavai,
Main To Jhum Jhum Naanchi Bharapur,
Dhul Mohe Pyaari Lage.
Khaatu Nagari Mein Ud Rahi Dhul,
Dhul Mohe Pyaari Lage.

Khaatu Nagari Mein Ud Rahi Dhul,
Dhul Mohe Pyaari Lage,
Khaatu Nagari Mein Ud Rahi Dhul,
Dhul Mohe Pyaari Lage.

Khatu Nagri Me Ud Rahi Dhul Lyrics

Khatu Nagri Me Ud Rahi Dhul PDF


हमें उम्मीद है की श्याम जी के भक्तो को यह आर्टिकल “Khatu Nagri Me Ud Rahi Dhul Lyrics | खाटू नगरी में उड़ रही धुल लिरिक्स” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Khatu Nagri Me Ud Rahi Dhul Lyrics” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Khatu Nagri Me Ud Rahi Dhul Lyrics के गायक कलाकार (Singer) कौन हैं ?

खाटू नगरी में उड़ रही धूल धूल मोहे प्यारी लगे के गायक कलाकार (Singer) “कन्हैया मित्तल जी” हैं।

खाटू नगरी में उड़ रही धूल धूल मोहे प्यारी लगे किस फिल्मी गाने (गीत) की तर्ज़ पर आधारित है ?

यह भजन “Khatu Nagri Me Ud Rahi Dhul Lyricsनंदभवन में उड़ रही धुल पर आधारित है।

Leave a Comment