shri shiv stuti Header

द्वार दया का खोल जरा खाटू वाले लिरिक्स | Dwar Daya Ka Khol Jara Khatu Wale Lyrics

श्याम बाबा का एक अद्बुध भजन “द्वार दया का खोल जरा खाटू वाले लिरिक्स | Dwar Daya Ka Khol Jara Khatu Wale Lyrics” नीरज अवस्थी जी के द्वारा गाया हुआ है। इनकी भक्ति से श्याम जी की कृपा बनी रहती है। बाबा श्याम अपने भक्तो पर अपना आशीर्वाद बनाये रखते है।


Dwar Daya Ka Khol Jara Khatu Wale Lyrics

द्वार दया का खोल,
जरा खाटू वाले,
लखदातार, पालनहार,
श्याम हारे के सहारे,
तेरे बिन किसे पुकारे,
श्याम हारे के सहारे,
तेरे बिन किसे पुकारे।।
खोल जरा,खोल जरा….

तीन बाण तरकश में निशानी,
लखदातार शीश के दानी,
मोरछड़ी की महिमा निराली खाटूवाले,
लखदातार, पालनहार,
श्याम हारे के सहारे,
तेरे बिन किसे पुकारे,
श्याम हारे के सहारे,
तेरे बिन किसे पुकारे।।
खोल जरा,खोल जरा….

नाँव भंवर में दूर किनारा,
कोई ना सुनता सबको पुकारा,
दे दो सहारा बाबा आन बनो रखवाले,
लखदातार, पालनहार,
श्याम हारे के सहारे,
तेरे बिन किसे पुकारे,
श्याम हारे के सहारे,
तेरे बिन किसे पुकारे।।
खोल जरा,खोल जरा….

पागल मन और अँखियाँ प्यासी,
अर्जी लगाए ‘किशन ब्रजवासी’,
जैसे भी है बाबा दास तेरे अपना ले,
लखदातार, पालनहार,
श्याम हारे के सहारे,
तेरे बिन किसे पुकारे,
श्याम हारे के सहारे,
तेरे बिन किसे पुकारे।।
खोल जरा,खोल जरा….

बिना कहे तू मन की जाने,
फिर भी आए बाबा तुझको सुनाने,
जैसे भी है बाबा दास तेरे अपना ले,
लखदातार, पालनहार,
श्याम हारे के सहारे,
तेरे बिन किसे पुकारे,
श्याम हारे के सहारे,
तेरे बिन किसे पुकारे।।

Dwar Daya Ka Khol Jara Khatu Wale Lyrics

हमें उम्मीद है की श्याम जी के भक्तो को यह आर्टिकल “द्वार दया का खोल जरा खाटू वाले लिरिक्स | Dwar Daya Ka Khol Jara Khatu Wale Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “द्वार दया का खोल जरा खाटू वाले लिरिक्स | Dwar Daya Ka Khol Jara Khatu Wale Lyrics” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment