दीपों का त्योंहार लिरिक्स | Dipo Ka Tyonhar Lyrics

भगवान गणेश “दीपों का त्योंहार लिरिक्स | Dipo Ka Tyonhar Lyrics” श्याम अग्रवाल जी के द्वारा गाया हुआ है। इस भजन में गणेश जी का अपने कारज में आमंत्रित किया जा रहा और उन्हें प्रसन्न किया जा रहा है।


Dipo Ka Tyonhar Lyrics

सिद्धि विनायक गणपति को, रिझाने आये हैं ।
दीपों का त्योंहार, हम मनाने आए हैं ।।

जब से तुम कलकत्ता पधारे,
हो गए सबके वारे न्यारे ।
प्रथम तुम्हारी होती पूजा,
तुमसे बढ़कर देव ना दूजा ।।

तेरे चरणों में, शीश झुकाने आए हैं ।
दीपों का त्योंहार, हम मनाने आए हैं ।।

रिद्धि सिद्धि के तुम हो दाता,
भक्तों के तुम भाग्य विधाता ।
शुभ और लाभ को देने वाले,
भक्तों के दुःख को हरने वाले ।।

अपनी क़िस्मत को, चमकाने आए हैं ।
दीपों का त्योंहार, हम मनाने आए हैं ।।

नए साल का बही और खाता,
तेरे नाम पे लक्ष्मी दाता ।
तेरे साथ शुरआत करेंगे,
सपने सारे पुरे करेंगे ।।

श्याम के संग में हम, धोक लगाने आए हैं,
सिद्धि विनायक गणपति को, रिझाने आये हैं,
दीपों का त्योंहार, हम मनाने आए हैं ।।

दीपों का त्योंहार हम मनाने आए हैं,
सिद्धि विनायक गणपति को, रिझाने आये हैं,
दीपों का त्योंहार, हम मनाने आए हैं ।।

Dipo Ka Tyonhar Lyrics

हमें उम्मीद है की गणेश जी के भक्तो को यह आर्टिकल “दीपों का त्योंहार लिरिक्स | Dipo Ka Tyonhar Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Dipo Ka Tyonhar Lyrics ” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment

आरती : जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी