आये तुम्हरे द्वार हे गणराजा लिरिक्स | Aaye Tumhre Dwar He Ganaraja Lyrics

भगवान गणेश “आये तुम्हरे द्वार हे गणराजा लिरिक्स | Aaye Tumhre Dwar He Ganaraja Lyrics” शहनाज़ अख्तर जी के द्वारा गाया हुआ है। इस भजन में गणेश जी का अपने कारज में आमंत्रित किया जा रहा और उन्हें प्रसन्न किया जा रहा है।


Aaye Tumhre Dwar He Ganaraja Lyrics

आये तुम्हरे द्वार हे गणराजा
सुन लो हमरी पुकार हे गणराजा
राजा राजा राजा राजा
आए तुम्हरे द्वार हे गणराजा

मां गौरा के आंखो के तारे
सब के बिगड़े काज सवारे
सदियों से तेरी चली हुकूमत
गिरी नहीं सरकार

आए तुम्हरे द्वार हे गणराजा
सुन लो हमरी पुकार हे गणराजा

करते तुम मूसा पे सवारी
तुम्हरी लीला सबसे न्यारी
देने वाले तुम हो दाता
नैया लगा दो पार

आए तुम्हरे द्वार हे गणराजा
सुन लो हमरी पुकार हे गणराजा

तुम्हारे द्वारे आए सवाली
भर दो भगवन झोली खाली
तीन लोक के तुम हो स्वामी
देवों के सरदार

आए तुम्हरे द्वार हे गणराजा
सुन लो हमरी पुकार हे गणराजा

Aaye Tumhre Dwar He Ganaraja Lyrics

हमें उम्मीद है की गणेश जी के भक्तो को यह आर्टिकल “आये तुम्हरे द्वार हे गणराजा लिरिक्स | Aaye Tumhre Dwar He Ganaraja Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Aaye Tumhre Dwar He Ganaraja Lyrics ” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment