गोकुल का कृष्ण कन्हैया सारे जग से निराला है भजन लिरिक्स | Gokul Ka Krishna Kanhaiya Saare Jag Se Nirala Hai Lyrics

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “गोकुल का कृष्ण कन्हैया सारे जग से निराला है भजन लिरिक्स | Gokul Ka Krishna Kanhaiya Saare Jag Se Nirala Hai Lyrics” कुमार संजय, मीना व हरविंदर जी के द्वारा गाया हुआ है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Gokul Ka Krishna Kanhaiya Saare Jag Se Nirala Hai Lyrics

गोकुल का कृष्ण कन्हैया,
सारे जग से निराला है
सांवली सुरतीया है,
और मोर मुकुट वाला है॥

गोकुल का कृष्ण कन्हैया,
सारे जग से निराला है
सांवली सुरतीया है,
और मोर मुकुट वाला है॥

भोले भाले मुखडे की बात ही निराली है,
हाथो मे बंसी है और वेजँति माला है,
गोकूल का कृष्ण कन्हैया सारे जग से ॥

काली देह मे कूद पड़े नाग को नचैय्या है,
केहते है उस दिन से सांवरे को काला है,
गोकूल का कृष्ण कन्हैया सारे जग से ॥

इन्द्र का घमंड तोड़ा गोवर्धन उठा करके,
तुमने इक उँगली पे पर्वत को सम्भाला है,
गोकूल का कृष्ण कन्हैया सारे जग से ॥

मीरा के मनमोहन राधा के बनवारी,
नाच तेरी बंसी पे सारी बृजबाला है,
गोकूल का कृष्ण कन्हैया सारे जग से ॥

गोकुल का कृष्ण कन्हैया,
सारे जग से निराला है
सांवली सुरतीया है,
और मोर मुकुट वाला है॥॥

Gokul Ka Krishna Kanhaiya Saare Jag Se Nirala Hai Lyrics

हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “गोकुल का कृष्ण कन्हैया सारे जग से निराला है भजन लिरिक्स | Gokul Ka Krishna Kanhaiya Saare Jag Se Nirala Hai Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Gokul Ka Krishna Kanhaiya Saare Jag Se Nirala Hai Lyrics” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here