सिर पे सजाके मोतियों का ताज लिरिक्स | Sir Pe Saja Ke Motiyo Ka Taaj Lyrics

भगवान गणेश “सिर पे सजाके मोतियों का ताज लिरिक्स | Sir Pe Saja Ke Motiyo Ka Taaj Lyrics”  Hemant Chauhan & Kamlesh Barot के द्वारा गाया हुआ है। इस भजन में गणेश जी का अपने कारज में आमंत्रित किया जा रहा और उन्हें प्रसन्न किया जा रहा है।


Sir Pe Saja Ke Motiyo Ka Taaj Lyrics

सिर पे सजाके मोतियों का ताज,
सिर पे सजा के मोतियों का ताज
रखने को अपने भक्तों की लाज,
ये गौरी के ललना आये गजराज ।।

गौरी के ललना आये गजराज,
सिर पे सजाके मोतियों का ताज ।
रखने को अपने भक्तों की लाज,
ये गौरी के ललना आये गजराज ।।

श्रद्धा से झोलिया अपनी पसारो,
सिद्धिविनायक को मन से पुकारो ।
माँगना जो तुमने माँग लेना आज,
ये गौरी के ललना आये गजराज ।।

रखने को अपने भक्तो की लाज ।
ये गौरी के ललना आये गजराज ।।

दया की दृष्टि ये जिनपे करेंगे,
दुखरो को उनके तो पल में हरेंगे ।
भक्तो की चिंता का होगा इलाज,
ये गौरी के ललना आये गजराज ।।

रखने को अपने भक्तो की लाज ।
ये गौरी के ललना आये गजराज ।।

ये है महोदर वे गणराज दाता,
करुणा का सागर ये भाग्यविधाता ।
जिसे भाये निर्दोष भक्ति का साग,
ये गौरी के ललना आये गजराज ।।

रखने को अपने भक्तो की लाज ।
ये गौरी के ललना आये गजराज ।।

सिर पे सजाके मोतियों का ताज
ये गौरी के ललना आये गजराज ।
रखने को अपने भक्तो की लाज,
ये गौरी के ललना आये गजराज ।।

Sir Pe Saja Ke Motiyo Ka Taaj Lyrics


हमें उम्मीद है की गणेश जी के भक्तो को यह आर्टिकल “सिर पे सजाके मोतियों का ताज लिरिक्स | Sir Pe Saja Ke Motiyo Ka Taaj Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Sir Pe Saja Ke Motiyo Ka Taaj Lyrics ” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment