सरहद तुझे प्रणाम देशभक्ति गीत लिरिक्स | Sarhad Tujhe Pranam Deshbhakti Geet Lyrics

देशभक्ति गीतसरहद तुझे प्रणाम देशभक्ति गीत लिरिक्स | Sarhad Tujhe Pranam Deshbhakti Geet Lyrics” प्रकाश माली जी के द्वारा गाया हुआ है।


Sarhad Tujhe Pranam Deshbhakti Geet Lyrics

सरहद तुझे प्रणाम,
सरहद तुझें प्रणाम।।

देश की रक्षा धर्म हमारा,
देश की सेवा कर्म हमारा,
गूंज उठेगा जल थल अंबर,
जग में गौरव गान,
सरहद तुझें प्रणाम।।

सीमाएँ हम रखे सुरक्षित,
देश रहेगा सदा अखंडित,
इसी के हित मे जिये मरेंगे,
चलके सीना तान,
सरहद तुझें प्रणाम।।

जन जन मे सद भाव जगाये,
भेद भाव सब दूर भगाए,
एक देश है एक संस्कृति,
समरस अमृत पान,
सरहद तुझें प्रणाम।।

धर्म शिखर पर ले जायेंगे,
देश का वैभव प्रगटायेगे,
विश्व गुरू बनकर उमडेंगे,
पायेगे सम्मान,
सरहद तुझें प्रणाम।।

सरहद तुझे प्रणाम,
सरहद तुझें प्रणाम।।

Sarhad Tujhe Pranam Deshbhakti Geet Lyrics

हमें उम्मीद है की देशभक्तो को यह आर्टिकल “सरहद तुझे प्रणाम देशभक्ति गीत लिरिक्स | Sarhad Tujhe Pranam Deshbhakti Geet Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Sarhad Tujhe Pranam Deshbhakti Geet Lyrics ” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here