बजरंगी महाराज तुम्हे भक्त बुलाते हैं लिरिक्स | Bajrangi Maharaj Tumhe Bhakat Bulate Hai Lyrics

पवन पुत्र हनुमान जी का अति पावन भजन “बजरंगी महाराज तुम्हे भक्त बुलाते हैं लिरिक्स | Bajrangi Maharaj Tumhe Bhakat Bulate Hai Lyrics” – राजीव शर्मा जी के द्वारा गाया गया है। इस भजन में श्रीराम के सबसे बड़े भक्त हनुमान जी की राम भक्ति बताया गया है।


Bajrangi Maharaj Tumhe Bhakat Bulate Hai Lyrics

बजरंगी महाराज,
तुम्हे भक्त बुलाते है,
तुम्हे शीश झुकाते है॥

अज्ञान बालक है,
चरणों के पायक है,
तू ही सिरमौर है,
नादान बिलकुल है,
ये बात सच्ची है,
तेरे बिन नहीं और है,
बैठे ले उम्मीद,
तुमको आज रिझाते है,
तुम्हे शीश झुकाते है,
बजरंगी महाराज…..

तुम वीर बलकारी,
शंकर के अवतारी,
अजब तेरी शान है,
तू राम का प्यारा,
तू श्याम का प्यारा,
बड़ा तू गुणवान है,
जल्दी आ जाओ,
तेरी ज्योत जलाते है,
तुम्हे शीश झुकाते है,
बजरंगी महाराज…..

भक्ति का दाता है,
शक्ति का दाता है,
वीर बलधारी हो,
जो भी शरण आया,
खाली ना लौटाया,
बड़े उपकारी हो,
अभय दान दे दो,
यही आस लगाते है,
तुम्हे शीश झुकाते है,
बजरंगी महाराज…..

दीनो के हितकारी,
अर्जी सुनो म्हारी,
प्रभु सिर हाथ धरो,
लेकर तुम्हारा नाम,
करते तुम्हे प्रणाम,
हमें भव पार करो,
जयराम बलिहारी,
तुम्हे भजन सुनाते है,
तुम्हे शीश झुकाते है,
बजरंगी महाराज…..

Bajrangi Maharaj Tumhe Bhakat Bulate Hai Lyrics

हमें उम्मीद है की श्री राम के भक्त हनुमान जी ये भजन का यह आर्टिकल “बजरंगी महाराज तुम्हे भक्त बुलाते हैं लिरिक्स | Bajrangi Maharaj Tumhe Bhakat Bulate Hai Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Bajrangi Maharaj Tumhe Bhakat Bulate Hai Lyrics ” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment