सज गयी खाटू नगरी लिरिक्स | Saj Gayi Khatu Nagri Lyrics

श्याम बाबा का एक अद्बुध भजन “सज गयी खाटू नगरी लिरिक्स | Saj Gayi Khatu Nagri Lyrics” आरती भारद्वाज जी के द्वारा गाया हुआ है। इनकी भक्ति से श्याम जी की कृपा बनी रहती है। बाबा श्याम अपने भक्तो पर अपना आशीर्वाद बनाये रखते है।


Saj Gayi Khatu Nagri Lyrics

सज गयी खाटू नगरी, शोभा अपरम्पार है,
बैठा सजधज के देखो, मेरा लखदातार है ।
उमड़ी जन्मदिवस पर, भगतों की कतार है,
बैठा सजधज के देखो, मेरा लखदातार है ।।

सज गयी खाटू नगरी, शोभा अपरम्पार है ।।

रंग बिरंगे निशान उठाये,
भगत हर ओर से आये ।
कोई लहराए कोई बलखाये,
कोई श्याम भजन सुनाये ।।

रौनक रींगस से खाटू, की न जाये कही,
लगता है स्वर्ग उतरा, इस धरा पर हीं ।
मानव रूप में क्या ये, देवों का अवतार है,
बैठा सजधज के देखो, मेरा लखदातार है ।।

सज गयी खाटू नगरी, शोभा अपरम्पार है ।।

हर ग्यारस से अलग है ये ग्यारस,
जिसे श्याम प्रेमी तरसते ।
बड़े भाग्यवालों पे श्याम कृपा के,
यहां आज बादल बरसते ।।

जो भी देने बधाई, खाटू धाम आ गया,
उसको बिन बोले, दुख से आराम आ गया ।
हर इक प्रेमी श्याम की, लीला पर निसार है,
बैठा सजधज के देखो, मेरा लखदातार है ।।

सज गयी खाटू नगरी, शोभा अपरम्पार है ।।

रंगीं गुब्बारों की झांकी कहीं पे,
कहीं फूल बंगला सजाया ।
कोई केक लाया है मेवों वाला,
कोई चूरमा ले के आया ।।

सारे दीवाने मस्ती में डोल रहे,
आओ जीमो सांवरिया यही बोल रहे ।
गुलशन भक्तों के संग, झूम रहा सरकार है,
बैठा सजधज के देखो, मेरा लखदातार है ।।

सज गयी खाटू नगरी, शोभा अपरम्पार है ।।

सज गयी खाटू नगरी, शोभा अपरम्पार है,
बैठा सजधज के देखो, मेरा लखदातार है ।
उमड़ी जन्मदिवस पर, भगतों की कतार है,
बैठा सजधज के देखो, मेरा लखदातार है ।।

सज गयी खाटू नगरी, शोभा अपरम्पार है ।।

Saj Gayi Khatu Nagri Lyrics

हमें उम्मीद है की श्याम जी के भक्तो को यह आर्टिकल “सज गयी खाटू नगरी लिरिक्स | Saj Gayi Khatu Nagri Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Saj Gayi Khatu Nagri Lyrics” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment

आरती : जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी