Tera Janam Maran Mit Jaye | तेरा जनम मरण मिट जाए

Saini Brahmanand Bhajan जी का यह भजन “Tera Janam Maran Mit Jaye | तेरा जनम मरण मिट जाए” बताता है की भगवन के भजनभाक्ति करलो, जीवन का यह समय तो ऐसे ही निकला जा रहा है।


तेरा जनम मरण मिट जाए लिरिक्स

तेरा जनम मरण मिट जाए,
तू हरी का नाम सुमिर प्यारे ।

बालापन में मन खेलन में, सुख दुःख नहीं था रे,
जोबन रसिया कामन बसिया तन मन धन हारे ।
तू हरी का नाम सुमिर प्यारे…

बूढा हो कर घर में सो कर, सुने वचन खारे,
दुर्बल काया रोग सताया, तृष्णा तन जारे ।
तू हरी का नाम सुमिर प्यारे…

प्रभु नहीं सुमिरा बीता उमरा, काल आए मारे
‘ब्रह्मानंद’ बिना जगदीश्वर कौन विपत टारे
तू हरी का नाम सुमिर प्यारे…

Tera Janam Maran Mit Jaye Lyrics

Tera Janam Maran Mit Jaye Lyrics

Tera Janam Maran Mit Jaye
Tu Hari Ka Naam Sumir Pyare

Balapan Me Man Khelan Me,
Sukh Dukh Nahi Tha Re
Joban Rasiya Kaaman Basiya
Tan Man Dhan Haare

Budha Ho Kar Ghar Me So Kar
Sune Vachan Khare
Durbal Kaaya Rog Sataya,
Trashna Tan Jaare
Tu Hi Hari Ka Naam Sumir Pyare

Prabhu Nahi Sumira Bita Umara
Kaal Aaye Maare
Bramhanand Bina Jagdish
Kon Vipat Taare
Tu Hari Ka Naam Sumir Pyare


हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल Tera Janam Maran Mit Jaye | तेरा जनम मरण मिट जाए + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here