रंग डार गयो री मोपे सांवरा लिरिक्स | Rang Daar Gayo Ri Mope Saanwra Lyrics

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “रंग डार गयो री मोपे सांवरा लिरिक्स | Rang Daar Gayo Ri Mope Saanwra Lyrics” चित्र विचित्र जी महाराज का गाया हुआ है। इस भजन में बनवारी से प्रार्थना की गयी है की हमे अपनी शरण में लेलो और हमे कृतघ्न करदो।


रंग डार गयो री मोपे सांवरा लिरिक्स

रंग डार गयो री मोपे सांवरा
मर गयी लाजन में हे री मेरी बीर,
मैं क्या करूँ होरी में

मारी तान के ऐसी मोपे पिचकारी
मेरो भीजो तन को चीर,
मैं क्या करूँ होरी में

पागल के ‘चित्र विचत्र’ संग
लीला भाई यमुना के तीर,
मैं करूँ सजनी होरी में


Rang Daar Gayo Ri Mope Saanwra Lyrics

Rang Daar Gayo Mope Sanwariya
Mar Gayi Laajan Me He Ri Meri Beer
Me Kya Karu Hori Me

Maari Taan Ke Aisi Mope Pichkari
Mero Bhijo Tan Ki Cheer
Me Kya Karu Hori Me

Pagal Ke Chitar-vichitar Sang
Leela Bhyi Yamuna Ke Teer
Me Karu Sajni Hori Me


हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “रंग डार गयो री मोपे सांवरा लिरिक्स | Rang Daar Gayo Ri Mope Saanwra Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Rang Daar Gayo Ri Mope Saanwra Lyrics” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here