shri shiv stuti Header

रम गयी माँ मेरे रोम रोम में लिरिक्स | Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Mein Lyrics

दुर्गा माता का भजन “रम गयी माँ मेरे रोम रोम में लिरिक्स | Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Mein Lyrics” नरेंद्र चंचल जी के द्वारा गाया हुआ है। दुर्गा माता का भजन, वीडियो और लिरिक्स दिया गया है।


रम गयी माँ मेरे रोम रोम में लिरिक्स

रम गयी माँ मेरे रोम रोम में,
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में,
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में

मेरी सांसो में अम्बे के नाम की धारा बहती
इसीलिए तो मेरी जिह्वा हर समय ये कहती
॥ रम गयी माँ मेरे रोम रोम में ॥

जहा भी जाऊ, जिधर भी देखू
जहा भी जाऊं, जिधर भी देखू

अष्टभुजी माता के, ये रंग ऐसा जिसके
आगे और सभी रंग फीके भक्तो
और सभी रंग फीके भक्तो,
और सभी रंग फीके भक्तो

आंधी आये तूफ़ान आया,
पर ना भरोसा ना डोला
नाम दीवाना भक्त जानू,
यही झूम के बोला
॥ रम गयी माँ मेरे रोम रोम में ॥

दुःख सुख भक्तो, इस जीवन को
दुःख सुख भक्तो, इस जीवन को,
एक बराबर लागे
मंन में माँ की ज्योति जगी है,
इधर उधर क्यों भागे
इधर उधर क्यों भागे,
इधर उधर क्यों भागे

सपने में जब वैष्णों माँ ने,
अध्भुत रूप दिखाया
मस्ती में बावरे हो कर श्रीधर ने फरमाया
॥ रम गयी माँ मेरे रोम रोम में ॥

मंन चाहे अब, मंन चाहे अब
माँ के दर का मैं सेवक बनजाऊ
माँ के भक्तो की सेवा में सारी उम्र बिताओ
सारी उम्र बिताओ,
सारी उम्र बिताओ

छिन्न मस्तिका चिंता हरणी नैनन बीच समायी
मस्ताना हो भाई दास ने ये ही रत लगाईं
॥ रम गयी माँ मेरे रोम रोम में ॥

मेरी सांसो में अम्बे के नाम की धारा बहती
इसीलिए तो मेरी जिह्वा हर समय ये कहती

रम गयी माँ मेरे रोम रोम में
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में


Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Mein Lyrics

Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me,
Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me
Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me,
Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me

Meri Sanso me Ambe Ke Naam Ki Dhara Bahti
Isliye to Meri Jihva Har Samay Ye Kahti
॥ Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me ॥

Jaha Bhi Jao, Jidhar Bhi Dekho
Jaha Bhi Jao, Jidhar Bhi Dekho

Ashtbhuji Mata Ke, Ye Rang Esa Jiske
Aaage Chade Aur Rang Kaise
Aur Sabhi Rang Feeke Bhakto,
Aur Sabhi Rang Feeke Bhakto

Aandhi Aaye Tufaan Aaya,
Per Naa Bharosa Naa Dola
Naam Diwaana Bhaaw Ko Jaanu,
Yahi Jhoom Ke Bola
॥ Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me ॥

Dukh Sukh Bhakto, Iss Jeevan Ka
Dukh Sukh Bhakt, Iss Jeevan Ka,
Ek Barabar Laage
Mann Me Maa Ki Jyoti Jagi Hai,
Idhar Udhar Kyu Bhage
Idhar Udhar Kyu Bhage,
Idhar Udhar Kyu Bhage

Sapne Me Jab Vaisno Maa Ne,
Adhbhut Roop Dikhaya
Masti Me Baware Ho Kar
Shridhar Ne Farmaaya
॥ Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me ॥

Mann Chaahe Ab, Mann Chaahe Ab
Maa Ke Dar Ka Mai Sevak Banjaau
Maa Ke Bhakto Ki Seva Me
Sari Umar Bitaau
Sari Umar Bitaau Bhakto,
Sari Umar Bitaau Bhakto

ChhinnaMastika Chinta Harni
Nainan Beech Samayi
Mastana Ho Bhai Daas Ne
Ye Hi Rat Lagaai
॥ Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me ॥

Meri Sanso me Ambe Ke Naam Ki Dhara Bahti
Isliye to Meri Jihva Har Samay Ye Kahti

Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me,
Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me
Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me,
Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Me

Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Mein Lyrics

Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Mein Lyrics PDF


हमें उम्मीद है की माँ दुर्गा के भक्तो को यह आर्टिकल “रम गयी माँ मेरे रोम रोम में लिरिक्स | Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Mein Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Mein Lyrics” पर आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment