Kalyug Baitha Mar Kundali – कलयुग बैठा मार कुंडली

कलयुग की व्यथा को दर्शाने वाला एक मनमोहक भजन “Kalyug Baitha Mar Kundali – कलयुग बैठा मार कुंडली” जो की आपको वर्तमान समय में समाज करेगा और आपको भगवन के समीप लेकर जायेगा। रामायण काल के आदर्शो को आज के वर्तमान समय में नहीं पाए जाने की व्यथा को इस “भजन कलयुग बैठा मार कुंडली” के माध्यम से प्रस्तुत किया गया है।

Bhajan Video Kalyug Baitha Mar Kundali

kalyug baitha mar kundali Video

कलयुग बैठा मार कुंडली लिरिक्स

कलयुग बैठा मार कुंडली जाँऊ तो में कहा जाँऊ ।
अब हर घर मे रावण बैठा इतने राम कहा से लाऊँ ।

दशरथ कौशल्या जैसे मातपिता अब भी मिल जाये,
पर राम से पुत्र मिले ना जो आज्ञा ले वन जाये।

भरत लखन से भाई को अब ढूंढ कहा से में लाऊँ।
अब हर घर मे रावण बैठा इतने राम कहा से लाऊँ ।

कलयुग बैठा मार कुंडली जाँऊ तो में कहा जाँऊ ।
अब हर घर मे रावण बैठा इतने राम कहा से लाऊँ ।

Kalyug Baitha Mar Kundali bhajan lyrics image

जिसे समझते हो तुम अपना जड़े खोदता आज वहीं ।
रामायण की बाते जैसे लगती है सपना कोई।

तब थी दासी एक मंथरा आज वही घर घर पाऊँ
अब हर घर मे रावण बैठा इतने राम कहा से लाऊँ ।

कलयुग बैठा मार कुंडली जाँऊ तो में कहा जाँऊ ।
अब हर घर मे रावण बैठा इतने राम कहा से लाऊँ ।

कलयुग बैठा मार कुंडली जाँऊ तो में कहा जाँऊ ।
अब हर घर मे रावण बैठा इतने राम कहा से लाऊँ ।


kalyug baitha mar kundali lyrics

Kalayug Baitha Maar Kundali ,
Jaau To Mein Kaha Jaau .
Ab Har Ghar Me Raavan Baitha ,
Itane Raam Kaha Se Laoon .

Dasharath Kaushalya Jaise ,
Maatapita Ab Bhee Mil Jaaye .
Par Raam Se Putr Mile Na Jo ,
Aagya Le Van Jaaye.

Bharat Lakhan Se Bhai Ko Ab ,
Dhoondh Kaha Se Mein Laoon.
Ab Har Ghar Me Raavan Baitha ,
Itane Raam Kaha Se Laoon .

Kalayug Baitha Maar Kundali ,
Jaau To Mein Kaha Jaau .
Ab Har Ghar Me Raavan Baitha ,
Itane Raam Kaha Se Laoon .

Jise Samajhate Ho Tum Apna ,
Jade Khodata Aaj Wahi .
Raamaayan Ki Baate Jaise ,
Lagati Hai Sapna Koi.

Tab Thi Daasi Ek Manthara ,
Aaj Vahee Ghar Ghar Paau.
Ab Har Ghar Me Raavan Baitha ,
Itane Raam Kaha Se Laoon .

Kalayug Baitha Maar Kundali ,
Jaau To Mein Kaha Jaau.
Ab Har Ghar Me Raavan Baitha ,
Itane Raam Kaha Se Laoon .

Kalyug Baitha Mar Kundali – कलयुग बैठा मार कुंडलीभजन आपको कैसा लगा कमेंट करके बताये।

इस मनमोहक भजन को दूसरे लोगो के साथ शेयर करके उन्हें भी राम भक्ति का आंनद लेने दे और भजन में कलयुग के इस दौर की व्यथा को दर्शाया गया है।

अन्य मनमोहक भजन

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here