जो तू मिटाना चाहे जीवन की तृष्णा लिरिक्स | Jo Tu Mitana Chahe Jeevan Ki Trishna Lyrics

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “जो तू मिटाना चाहे जीवन की तृष्णा लिरिक्स | Jo Tu Mitana Chahe Jeevan Ki Trishna Lyrics” अनूप जलोटा जी के द्वारा गाया हुआ है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Jo Tu Mitana Chahe Jeevan Ki Trishna Lyrics

जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा ।
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा ।।

जो तू मिटाना चाहे, जो तू मिटाना चाहे,
जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा ।
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा,
कृष्णा नाम पवन पवन कृष्णा नाम प्यारा प्यारा ।।

जो ना बोले कृष्णा कृशन जाग से वो हरा हरा ।
मॅन का माइट अंधियारा,बोल कृष्णा कृष्णा ।।

चाहे अगर उजियारा, बोल कृष्णा कृष्णा कृष्णा ।
जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा ।।

छ्होर दे भटकना दर दर तोड़ दे अहम का अंधेरा,
भूल जा जगत का वैभव जाग है दुखो का डेरा ।
फिरता है मारा मारा,फिरता है मारा मारा ।।

फिरता है मारा मारा, बोल कृष्णा कृष्णा ।
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा ।।

जो तू मिटाना चाहे, जो तू मिटाना चाहे,
जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा ।
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा,
जो तू मिटाना चाहे, जो तू मिटाना चाहे ।।

Jo Tu Mitana Chahe Jeevan Ki Trishna Lyrics

हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “जो तू मिटाना चाहे जीवन की तृष्णा लिरिक्स | Jo Tu Mitana Chahe Jeevan Ki Trishna Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Jo Tu Mitana Chahe Jeevan Ki Trishna Lyrics ” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment