जय भारती वन्दे भारती लिरिक्स | Jai Bharati Vande Bharati Lyrics

देशभक्ति गीत “जय भारती वन्दे भारती लिरिक्स | Jai Bharati Vande Bharati Lyrics” लता मंगेशकर जी का गाया हुआ है। इस गीत में भारत भूमि की महान गाथा गायी हुई है।


Jai Bharati Vande Bharati Lyrics

सर पे हिमालय का छत्र है,
चरणों में नदियाँ एकत्र हैं,
हाथों में वेदों के पत्र हैं,
देश नहीं ऐसा अन्यत्र है |
जय भारती ! वन्दे भारती !
जय भारती ! वन्दे भारती !

धुंए से पावन ये व्योम है,
घर घर में होता जहाँ होम है,
पुलकित हमारे रोम रोम है,
आदि-अनादि शब्द ॐ है |
जय भारती! वन्दे भारती!
वन्दे मातरम ! वन्दे मातरम !

जिस भूमि पे जन्म लिया राम ने,
गीता सुनायी जहाँ श्याम ने ,
पावन बनाया चारो धाम ने,
स्वर्ग भी ना आये जिसके सामने |
जय भारती!वन्दे भारती!
वन्दे मातरम ! वन्दे मातरम !

Jai Bharati Vande Bharati Lyrics

हमें उम्मीद है की देशभक्तो को यह आर्टिकल “जय भारती वन्दे भारती लिरिक्स | Jai Bharati Vande Bharati Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। Jai Bharati Vande Bharati Lyrics के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here