जगत प्रीत मत करियो रे मनवा भजन लिरिक्स | Jagat Preet Mat Kariyo Re Manva Krishna Bhajan Lyrics

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “जगत प्रीत मत करियो रे मनवा भजन लिरिक्स | Jagat Preet Mat Kariyo Re Manva Krishna Bhajan Lyrics” बाबा राशिका जी के द्वारा गाया हुआ है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Jagat Preet Mat Kariyo Re Manva Krishna Bhajan Lyrics

जगत प्रीत मत करियो रे मनवा,
जगत प्रीत मत करियो,
हरी वादा से डरियो रे मनवा,
जगत प्रीत मत करियो।।

ये जग तो माया की छाया,
झूटी माया झूटी छाया,
या पीछे मत पड़ियो रे मनवा,
जगत प्रीत मत करियो।।

ये जग तो माटी का खिलौना,
इसके पीछे तू मत खोना,
गुरु चरण चित धरियो रे मनवा,
जगत प्रीत मत करियो।।

ये जग तो झूठा दीवाना,
पागल मन यहाँ ना फस जाना,
नही तो जिन्दा मरियो रे मनवा,
जगत प्रीत मत करियो।।

इस जग में तू आया अकेला,
मत करियो जग ते मन मेला,
भव से पार उतरियो रे मनवा,
जगत प्रीत मत करियो।।

जगत प्रीत मत करियो रे मनवा,
जगत प्रीत मत करियो,
हरी वादा से डरियो रे मनवा,
जगत प्रीत मत करियो।।

Jagat Preet Mat Kariyo Re Manva Krishna Bhajan Lyrics


हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “जगत प्रीत मत करियो रे मनवा भजन लिरिक्स | Jagat Preet Mat Kariyo Re Manva Krishna Bhajan Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Jagat Preet Mat Kariyo Re Manva Krishna Bhajan Lyrics ” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here