shri shiv stuti Header

हँसा के क्यों रुलाए रे लिरिक्स | Hasa Ke Kyo Rulaye Re Lyrics

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “हँसा के क्यों रुलाए रे लिरिक्स | Hasa Ke Kyo Rulaye Re Lyrics” उमा लहरी जी के द्वारा गाया हुआ है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Hasa Ke Kyo Rulaye Re Lyrics

हँसा के क्यों रुलाए रे,
रुलाए रै कन्हैयाँ,
ठाकुर मेरे, ओ ठाकुर मेरे,
ठाकुर मेरे, ओ ठाकुर मेरे।

रोके रुके ना आँख के आँसू,
उमड़ उमड़ ये बरसे रै,
तुझ बिन कौन सुनेगा मेरी,
जाऊं कहाँ तेरे दर से रे,
रुठ गई क्यों मुझसे बहारें,
बता दे रे कन्हैयाँ,
ठाकुर मेरे, ओ ठाकुर मेरे,
ठाकुर मेरे, ओ ठाकुर मेरे।

फूल खिलाकर ख़ुशियों के ये,
ये क्या हुआ मुख मोड़ लिया,
हाथ पकड़ कर चलने वाले,
काहे अकेला छोड़ दिया,
आशा जगा के चरण लगा के,
सताए क्यों कन्हैयाँ,
ठाकुर मेरे, ओ ठाकुर मेरे,
ठाकुर मेरे, ओ ठाकुर मेरे।

चाँद बिना क्या चाँदनी लहरी,
दिप बिना क्या बाती रे,
ये धरती पालन हारे बिन,
कैसे रहे मुस्काती रै,
भूल भूला दे फिर से हँसा दे,
हसा दे रे कन्हैयाँ,
ठाकुर मेरे, ओ ठाकुर मेरे,
ठाकुर मेरे, ओ ठाकुर मेरे।

हँसा के क्यों रुलाए रे,
रुलाए रै कन्हैयाँ,
ठाकुर मेरे ओ ठाकुर मेरे,
ठाकुर मेरे ओ ठाकुर मेरे।

Hasa Ke Kyo Rulaye Re Lyrics

Hasa Ke Kyo Rulaye Re Lyrics PDF


हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “हँसा के क्यों रुलाए रे लिरिक्स | Hasa Ke Kyo Rulaye Re Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Hasa Ke Kyo Rulaye Re Lyrics” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment