गौरी नंदन तेरा वंदन करता है लिरिक्स | Gauri Nandan Tera Vandan Karta Hai Lyrics

भगवान गणेश “गौरी नंदन तेरा वंदन करता है लिरिक्स | Gauri Nandan Tera Vandan Karta Hai Lyrics” श्याम अग्रवाल जी के द्वारा गाया हुआ है। इस भजन में गणेश जी का अपने कारज में आमंत्रित किया जा रहा और उन्हें प्रसन्न किया जा रहा है।


Gauri Nandan Tera Vandan Karta Hai Lyrics

गौरी नंदन तेरा वंदन करता है संसार ।
तुझे सब प्रथम मनाते प्रेम से तुझे बुलाते ।।
।। गौरी नंदन तेरा वंदन करता है संसार ।।

मात पिता से तुमने ये वर पाया,
इसलिए सारे जग ने प्रथम मनाया ।
मंगल काज में पड़ती है पहले तेरी दरकार,
तुझे सब प्रथम मनाते प्रेम से तुझे बुलाते ।।
।। गौरी नंदन तेरा वंदन करता है संसार ।।

एकदन्त दयावन्त चारभुजा धारी,
मुस की सवारी तेरी लगती है प्यारी ।
शुभ और लाभ के,तुम हो दाता,
रिद्धि सिद्धि के भरतार तुझे सब प्रथम मनाते ।।
।। गौरी नंदन तेरा वंदन करता है संसार ।।

लड्डुवन थाल जो भी भोग लगाते,
उन भक्तों से बप्पा खुश हो जाते ।
श्याम कहे इसके बदले में भर देते भंडार,
तुझे सब प्रथम मनाते प्रेम से तुझे बुलाते ।।
।। गौरी नंदन तेरा वंदन करता है संसार ।।

Gauri Nandan Tera Vandan Karta Hai Lyrics

हमें उम्मीद है की गणेश जी के भक्तो को यह आर्टिकल “गौरी नंदन तेरा वंदन करता है लिरिक्स | Gauri Nandan Tera Vandan Karta Hai Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Gauri Nandan Tera Vandan Karta Hai ” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here