फागण महीना आया लिरिक्स | Fagun Mahina Aaya Lyrics

श्याम बाबा का एक अद्बुध भजन “फागण महीना आया लिरिक्स | Fagun Mahina Aaya Lyrics” गौरी गोयल जी के द्वारा गाया हुआ है। इनकी भक्ति से श्याम जी की कृपा बनी रहती है। बाबा श्याम अपने भक्तो पर अपना आशीर्वाद बनाये रखते है।


Fagun Mahina Aaya Lyrics

फागण महीना आया उड़ता गुलाल
शीश दानी बाबा खाटू वाले सजते

प्रेमी नाचते हैं झूम झूम
ढोलक नगाड़े चंग बजते

भर भर लाओ सारे रंग पिचकारियां
खाटू में होने हैं लगी मेले की तैयारियां
मौका ना छोड़ेंगे आज रंगने का सांवरे को
देखते हैं श्याम कैसे बचते

प्रेमी नाचते हैं झूम झूम
ढोलक नगाड़े चंग बजते….

सांवरा भी देखो मंद मंद मुस्का रहा
नैनो ही नैनो में बाबा दिल को चुरा रहा
खेल ये निराला खेल समझ ना आये
तुझे देख देख दिल नहीं रजते

प्रेमी नाचते हैं झूम झूम
ढोलक नगाड़े चंग बजते

शोभा है निराली चरों दिशा में निशान की
महिमा निराली खाटू वाले घनश्याम की
गौरवो को गौरव बढ़ाते खुद आप
लेखनी में बैठे बाबा खुद जंचते

प्रेमी नाचते हैं झूम झूम
ढोलक नगाड़े चंग बजते

Fagun Mahina Aaya Lyrics

हमें उम्मीद है की श्याम जी के भक्तो को यह आर्टिकल “फागण महीना आया लिरिक्स | Fagun Mahina Aaya Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “फागण महीना आया लिरिक्स | Fagun Mahina Aaya Lyrics” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment

आरती : जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी