आये तेरे भवन देदे अपनी शरण | Aaye Tere Bhawan Dede Apni Sharan Lyrics

दुर्गा माता का भजन “आये तेरे भवन देदे अपनी शरण | Aaye Tere Bhawan Dede Apni Sharan Lyrics” सोनू निगम जी, अनुराधा पौडवाल जी के द्वारा गाया हुआ है। दुर्गा माता का भजन, वीडियो और लिरिक्स दिया गया है।


Aaye Tere Bhawan Dede Apni Sharan Lyrics

ओ आये तेरे भवन,
देदे अपनी शरण ।
ओ आये तेरे भवन,
देदे अपनी शरण ।
रहे तुझ में मगन,
थाम के यह चरण ।।

तन मन में भक्ति ज्योति तेरी,
हे माता जलती रहे ।
तन मन में भक्ति ज्योति तेरी,
हे माता जलती रहे ।।

हो आये तेरे भवन,
देदे अपनी शरण ।
रहे तुझ में मगन,
थाम के यह चरण ।।

तन मन में भक्ति ज्योति तेरी,
हे माता जलती रहे ।
तन मन में भक्ति ज्योति तेरी,
हे माता जलती रहे ।।

उत्सव मनाये, नाचे गाये,
उत्सव मनाये, नाचे गाये ।
चलो मैया के दर जाएँ ।।

जय माता दी, जय माता दी ।
जोर से बोलो जय माता दी ।।

चारो दिशाए चार खम्बे बनी हैं,
मंडप पे आत्मा की चारद तानी है ।
सूरज भी किरणों की माला ले आया,
कुदरत ने धरती का आँगन सजाया ।।

करके तेरे दर्शन,
झूमे धरती पवन ।
सन नन नन गाये पवन,
सभी तुझ में मगन ।।

तन मन में भक्ति ज्योति तेरी,
हे माता जलती रहे ।
हो तन मन में भक्ति ज्योति तेरी,
हे माता जलती रहे ।।

फूलों ने रंगों से रंगोली सजाई,
फूलों ने रंगों से रंगोली सजाई ।
सारी धरती ये महकायी ।।

जय माता दी, जय माता दी ।।
जोर से बोलो जय माता दी ।।

चरणों में बहती है गंगा की धारा,
आरती का दीपक लगे हर एक सितारा ।
पुरवैया देखो चवर कैसे झुलाए,
ऋतुएँ भी माता का झुला झुलायें ।।

ओ पा के भक्ति का धन,
हुआ पावन यह मन ।
कर के तेरा सुमिरन,
खुले अंतर नयन ।।

तन मन में भक्ति ज्योति तेरी,
हे माता जलती रहे ।
हो तन मन में भक्ति ज्योति तेरी,
हे माता जलती रहे ।।

हो आये तेरे भवन,
देदे अपनी शरण ।
रहे तुझ में मगन ,
थाम के यह चरण ।।

तन मन में भक्ति ज्योति तेरी,
हे माता जलती रहे ।
हो तन मन में भक्ति ज्योति तेरी,
हे माता जलती रहे ।।


O Aaye Tere Bhawan Dede Apni Sharan Lyrics

O Aaye Tere Bhavan
Dede Apni Sharan
O Aaye Tere Bhavan
Dede Apani Sharan
Rahe Tujh Mein Magan
Thaam Ke Yah Charan

Tan Man Mein Bhakti Jyoti Teri
He Maata Jalti Rahe
Tan Man Mein Bhakti Jyoti Teri
He Maata Jalti Rahe

O Aaye Tere Bhavan
Dede Apni Sharan
Rahe Tujh Mein Magan
Thaam Ke Yah Charan

Tan Man Mein Bhakti Jyoti Teri
He Maata Jalti Rahe
Tan Man Mein Bhakti Jyoti Teri
He Maata Jalti Rahe

Utsav Manaye, Naache Gaaye
Utsav Manaye, Naache Gaaye
Chalo Maiya Ke Dar Jaie

Jai Maata Di, Jai Maata Di
Zor Se Bolo Jai Maata Di

Chaaro Dishaye Chaar Khambe Bani Hai
Mandap Me Aatma Ki Chadar Tani Hai
Suraj Bhi Kirano Ki Maala Le Aaya
Kudarat Ne Dharati Ka Aangan Sajaaya

Karake Tere Darshan
Jhoome Dharati Pavan
Sannannan Gaaye Pavan
Sabhi Tujh Mein Magan

Tan Man Mein Bhakti Jyoti Teri
He Maata Jalti Rahe
Tan Man Mein Bhakti Jyoti Teri
He Maata Jalti Rahe

Phoolon Ne Rangon Se Rangoli Sajai
Phoolon Ne Rangon Se Rangoli Sajai
Saari Dharati Yah Mahakaayi

Jai Maata Di, Jai Maata Di
Zor Se Bolo Jai Maata Di

Charno Me Behati Hai Ganga Ki Dhaara
Aarti Ka Dipak Lage Har Ek Sitaara
Puravaiya Dekho Chavar Kaise Jhulae
Rituon Bhi Maata Ko Jhula Jhulaayen

Pa Ke Bhakti Ka Dhan
Hua Paavan Yah Man
Kar Ke Tera Sumiran
Khule Antar Nayan

Tan Man Mein Bhakti Jyoti Teri
He Maata Jalti Rahe
Tan Man Mein Bhakti Jyoti Teri
He Maata Jalti Rahe

O Aaye Tere Bhavan
Dede Apni Sharan
Rahe Tujh Mein Magan
Thaam Ke Yah Charan

Tan Man Mein Bhakti Jyoti Teri
He Maata Jalti Rahe
O Tan Man Mein Bhakti Jyoti Teri
He Maata Jalti Rahe

Aaye Tere Bhawan Dede Apni Sharan Lyrics

Aaye Tere Bhawan Dede Apni Sharan Lyrics

हमें उम्मीद है की माँ दुर्गा के भक्तो को यह आर्टिकल “आये तेरे भवन देदे अपनी शरण | Aaye Tere Bhawan Dede Apni Sharan Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Aaye Tere Bhawan Dede Apni Sharan Lyrics ” पर आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment