चरणों से लिपट जाऊं धूल बन के भजन लिरिक्स | Charno Se Lipat Jaun Dhul ban Ke Bhajan Lyrics

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “चरणों से लिपट जाऊं धूल बन के भजन लिरिक्स | Charno Se Lipat Jaun Dhul ban Ke Bhajan Lyrics” चित्र विचित्र जी के द्वारा गाया हुआ है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Charno Se Lipat Jaun Dhul ban Ke Bhajan Lyrics

चरणों से लिपट जाऊं धूल बन के,
तेरे बंगले में लग जाऊं फूल बन के।।

तेरी भक्ति की खुशबू उडाता रहूँ,
तेरा पल पल मैं दीदार पाता रहूँ,
लहराऊं कटी में नूपुर बन के,
तेरे बंगले में लग जाऊं फूल बन के।।

मेरी विनती यही अपना लो मुझे,
बृज का कोई फूल बना लो मुझे,
आऊं कोई कदम्ब का मूल बन के,
तेरे बंगले में लग जाऊं फूल बन के।।

तेरे वृन्दाविपिन में पड़ा ही रहूँ,
तेरे दर्शन की जिद पे अड़ा ही रहूँ,
पड़ जाऊं कालिंदी का फूल बन के,
तेरे बंगले में लग जाऊं फूल बन के।।

तेरा पागल तेरा ही दीवाना हूँ मैं,
आप बगिया और फिर विराना हूँ मैं,
रहूँ सूक्षम रहूँ या अस्थूल बन के,
तेरे बंगले में लग जाऊं फूल बन के।।

चरणों से लिपट जाऊं धूल बन के,
तेरे बंगले में लग जाऊं फूल बन के।।

Charno Se Lipat Jaun Dhul ban Ke Bhajan Lyrics

हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “चरणों से लिपट जाऊं धूल बन के भजन लिरिक्स | Charno Se Lipat Jaun Dhul ban Ke Bhajan Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Charno Se Lipat Jaun Dhul ban Ke Bhajan Lyrics ” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here