भर के झोली खुशिया से देवा लिरिक्स | Bhar Ke Jholi Khushiyo Se Deva Lyrics

भगवान गणेश “भर के झोली खुशिया से देवा लिरिक्स | Bhar Ke Jholi Khushiyo Se Deva Lyrics” Hemant Chauhan & Kamlesh Barot के द्वारा गाया हुआ है। इस भजन में गणेश जी का अपने कारज में आमंत्रित किया जा रहा और उन्हें प्रसन्न किया जा रहा है।


Bhar Ke Jholi Khushiyo Se Deva Lyrics

करने भगतो का उधार होके मुसे पे सवार,
गजानन घर घर जावे से,
भरके झोली खुशिया से देवा दिख लावे से ।।

सब देवो में सब से पेहले भगवान तुम्हे मनावे,
घने प्रेम से मोदक लड्डू भगवान तुम्हे चडावे महिमा मिलके गावे से,
भर के झोली खुशिया से देवा दिखलावे से ।।

मैया तुम्हरी गौरा देखो लाड प्यार बरसावे,
पिता तुम्हारे भोले शंकर देखो जान लुटावे,
भर के झोली खुशिया से देवा दिखलावे से ।।

दर पे जो भी आवे इनके मुह माँगा फल पावे,
रोता रोता आवे दर पे हस्ता हस्ता जावे अपने कष्ट मिटावे से,
भर के झोली खुशिया से देवा दिखलावे से ।।

सुख करता दुःख हरता देखो गणपति जी कहलावे,
विघन विनायक भगवान देखो इस जग में कहलावे ।
शत शत शीश जुकावे से,
भर के झोली खुशिया से देवा दिखलावे से ।।

Bhar Ke Jholi Khushiyo Se Deva Lyrics

हमें उम्मीद है की गणेश जी के भक्तो को यह आर्टिकल “भर के झोली खुशिया से देवा लिरिक्स | Bhar Ke Jholi Khushiyo Se Deva Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Bhar Ke Jholi Khushiyo Se Deva ” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here