Tumse Na Bolu Lyrics


Tumse Na Bolu Lyrics

तुमसे ना बोलू
बता फिर और किसे बोलू
लोग हंसेगे सांवरिया
दिल में किससे खोलू
तुमसे ना बोलू
बता फिर और किसे बोलू

यु तो दुनिया में
सभी तो अपने हैं
अपने हैं
पर अपने ही क्यों
अपनों को ठगते हैं
यु तो दुनिया में
सभी तो अपने हैं
अपने हैं
पर अपने ही क्यों
अपनों को ठगते हैं

रो लिया दुनिया के आगे
तेरे आगे रो लू
तुमसे ना बोलू
बता फिर और किसे बोलू

तुमसे ना बोलू
बता फिर और किसे बोलू

हैं कृपा तेरी तभी तो
जिन्दा हु
पर गुनाहों से
श्याम शर्मिंदा हु
हैं कृपा तेरी तभी तो
जिन्दा हु
पर गुनाहों से
श्याम शर्मिंदा हु

आकर के
दरबार तेरे में
पाप जरा से धो लू
तुमसे ना बोलू
बता फिर और किसे बोलू

तुमसे ना बोलू
बता फिर और किसे बोलू

हार गया हु में
मुझे अब अपनाओ
अपनों से ही हारा
मुझे ना ही ठुकाराओ
हार गया हु में
मुझे अब अपनाओ
अपनों से ही हारा
मुझे ना ही ठुकाराओ
नींद गयी मेरा चैन गया
तेरी गोद में
सर रख सो लू
तुमसे ना बोलू
बता फिर और किसे बोलू

तुमसे ना बोलू
बता फिर और किसे बोलू

Tumse Na Bolu Lyrics

Leave a Comment