मानो तो मैं गंगा माँ हूँ भजन लिरिक्स | Mano Toh Main Ganga Maa Hun Lyrics

गंगा माता का अति पावन भजन “Mano Toh Main Ganga Maa Hun – मानो तो मैं गंगा माँ हूँ” – तृप्ति शाक्या जी के द्वारा गाया गया है। इस भजन में गंगा माता की महिमा का बखान किया गया है।


मानो तो मैं गंगा माँ हूँ लिरिक्स

मानो तो मैं गंगा माँ हूँ,
ना मानो तो बहता पानी ।
जो स्वर्ग ने दी धरती को,
में हूँ प्यार की वही निशानी ।।

मानो तो मैं गंगा माँ हूँ ।
ना मानो तो बहता पानी ॥

युग युग से मैं बहती आई,
नील गगन के नीचे ।
सदियो से ये मेरी धारा,
ये प्यार की धरती सींचे ।।

ओ गंगा तुम गंगा बहती हो क्यूँ भजन लिरिक्स

मेरी लहर लहर पे लिखी है,
इस देश की अमर कहानी ।
मानो तो मैं गंगा माँ हूँ,
ना मानो तो बहता पानी ॥

हरी ॐ, हरी ॐ, हरी ॐ॥
हरी ॐ, हरी ॐ, हरी ॐ॥

कोई वजब करे मेरे जल से,
कोई वजब करे मेरे जल से ।
कोई मूरत को नहलाए,
कही मोची चमड़े धोए ।।

कही पंडित प्यास बुझाए,
ये जात धरम के झगड़े ओ ।
ये जात धरम के झगड़े,
इंसान की है नादानी ।।

मानो तो मैं गंगा माँ हूँ ।
ना मानो तो बहता पानी ॥

हर हर गंगे हर हर गंगे ॥
हर हर गंगे हर हर गंगे ॥

गौतम अशोक अकबर ने,
यहा प्यार के फूल खिलाए ।
तुलसी ग़ालिब मीरा ने,
यहा ज्ञान के दिप जलाए ।।

मेरे तट पे आज भी गूँजे ।
नानक कबीर की वाणी ।।

मानो तो मैं गंगा माँ हूँ ।
ना मानो तो बहता पानी ॥

मानो तो मैं गंगा माँ हूँ ।
ना मानो तो बहता पानी ॥

Mano Toh Main Ganga Maa Hun

Mano Toh Main Ganga Maa Hun Lyrics

Mano To Mai Ganga Maa Hu ।
Na Mano To Bahata Pani ।।
 
Mano To Mai Ganga Maa Hu ।
Na Mano To Bahata Pani ।।
 
Jo Svarg Ne Di Dharati Ko,
Mai Hu Pyar Ki Vahi Nishan ।
Mano To Mai Ganga Maa Hu,
Na Mano To Bahata Pani ।।
 
Yug-yug Se Mai Bahati Aayi,
Neel Gagan Ke Niche ।
Sadiyo Se Meri Dhara,
Pyar Ki Dharati Sinche ।।
 
Meri Lahar-lahar Pe Likhi Hai,
Is Desh Ki Amar Kahani ।
Mano To Mai Ganga Maa Hu,
Na Mano To Bahata Pani ।।
 
Hari Om, Hari Om, Hari Om ।
Hari Om, Hari Om, Hari Om ।।
 
Koi Vaju Kare Mere Jal Se
Koi Murat Ko Nahalaye ।
Kahi Mochi Chamde Dhoye
Kahi Pandit Pyaas Bujhaye ।।
 
Ye Jaat Dharam Ke Jhagade,
Insaan Ki Hai Nadani ।
Mano To Mai Ganga Maa Hu,
Na Mano To Bahata Pani ।।
 
Har Har Gange, Har Har Gange ।
Har Har Gange, Har Har Gange ।।
 
Gautam Ashok Akabar Ne
Yaha Pyaar Ke Phool Khilaye ।
Tulasi Galib Meera Ne
Yaha Gyan Ke Deep Jalaye ।।
 
Mere Tat Pe Aaj Bhi Gunje,
Nanak Kabir Ki Vaani ।
Mano To Mai Ganga Maa Hu,
Na Mano To Bahata Pani ।।
 
Mano To Mai Ganga Maa Hu ।
Na Mano To Bahata Pani ।।
 
Na Mano To Bahata Pani ।
Na Mano To Bahata Pani ।।

Mano Toh Main Ganga Maa Hun

हमें उम्मीद है की गंगा माता के भक्तो को यह आर्टिकल “ओ गंगा तुम गंगा बहती हो क्यूँ भजन लिरिक्स | Ganga Behti Ho Kyu Bhajan Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “Ganga Behti Ho Kyu Bhajan Lyrics” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here