Main Fir Se Khatu Aa Gaya Lyrics


Main Fir Se Khatu Aa Gaya Lyrics

तेरा जादू खाटू वाले,
ऐसा सर पे छा गया,
मैं फिर से खाटू आ गया,
फिर से खाटू आ गया ||

जब जब भी मैं सांवरे,
थोडा उदास हो जाता हूँ,
तुझसे मिलने मुरली वाले,
दौड़ा दौड़ा आता हूँ,
संग लेकर भक्तो की टोली,
गाडी भर कर आ गया,
मै फिर से खाटु आ गया,
फिर से खाटू आ गया।।

घर से लेकर रींगस तक,
रींगस से फिर खाटू तक,
चैन नहीं आता है बाबा,
तेरह पेडी चढ़ने तक,
तेरा सोहणा मुखड़ा बाबा,
इन नैनो को भा गया,
मै फिर से खाटु आ गया,
फिर से खाटू आ गया।।

मैं आऊं हर बार जी,
संग लेकर परिवार जी,
कर किरपा हर महीने नहीं,
रहूँ हर हफ्ते तैयार जी,
मैं नाचू दरबार में जेसे,
फिर से फागन आ गया,

मै फिर से खाटू आ गया,
फिर से खाटू आ गया।।

तेरा जादू खाटू वाले,
ऐसा सर पे छा गया,
मैं फिर से खाटू आ गया,
फिर से खाटू आ गया।।

Main Fir Se Khatu Aa Gaya Lyrics

Leave a Comment