मधुराष्टकम्: अधरं मधुरं वदनं मधुरं लिरिक्स | Madhurashtakam Adhram Madhuram Vadnam Madhuram Lyrics

कृष्ण भगवान के बालरूप की रचना “मधुराष्टकम्: अधरं मधुरं वदनं मधुरं | Madhurashtakam Adhram Madhuram Vadnam Madhuram” हिंदू भक्ति दार्शनिक श्री वल्लभाचार्य द्वारा रचित कृष्ण की भक्ति में मधुरकम् संस्कृत रचना है।


मधुराष्टकम्: अधरं मधुरं वदनं मधुरं

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं ।
हृदयं मधुरं गमनं मधुरं मधुराधिपते रखिलं मधुरं ॥1॥

वचनं मधुरं चरितं मधुरं वसनं मधुरं वलितं मधुरं ।
चलितं मधुरं भ्रमितं मधुरं मधुराधिपते रखिलं मधुरं ॥2॥

वेणुर्मधुरो रेणुर्मधुरः पाणिर्मधुरः पादौ मधुरौ ।
नृत्यं मधुरं सख्यं मधुरं मधुराधिपते रखिलं मधुरं ॥3॥

गीतं मधुरं पीतं मधुरं भुक्तं मधुरं सुप्तं मधुरं ।
रूपं मधुरं तिलकं मधुरं मधुराधिपते रखिलं मधुरं ॥4॥

करणं मधुरं तरणं मधुरं हरणं मधुरं रमणं मधुरं ।
वमितं मधुरं शमितं मधुरं मधुराधिपते रखिलं मधुरं ॥5॥

गुञ्जा मधुरा माला मधुरा यमुना मधुरा वीची मधुरा ।
सलिलं मधुरं कमलं मधुरं मधुराधिपते रखिलं मधुरं ॥6॥

गोपी मधुरा लीला मधुरा युक्तं मधुरं मुक्तं मधुरं।
दृष्टं मधुरं सृष्टं मधुरं मधुराधिपते रखिलं मधुरं ॥7॥

गोपा मधुरा गावो मधुरा यष्टिर्मधुरा सृष्टिर्मधुरा ।
दलितं मधुरं फलितं मधुरं मधुराधिपते रखिलं मधुरं ॥8॥

Madhurashtakam Adhram Madhuram Vadnam Madhuram Lyrics

हिंदी अर्थ – मधुराष्टकम्: अधरं मधुरं वदनं मधुरं

कृष्ण के होंठ मधुर हैं, कृष्ण के मुख मधुर हैं, कृष्ण की आँखें मधुर हैं और कृष्ण की मुस्कान मधुर है। कृष्ण का हृदय मधुर है और कृष्ण का चलना मधुर है। मिठास के स्वामी के बारे में सब कुछ मीठा है।

कृष्ण के शब्द मधुर हैं, कृष्ण के वर्ण मधुर हैं, कृष्ण के वस्त्र मधुर हैं और कृष्ण के आसन मधुर हैं। कृष्ण की चालें मधुर हैं और कृष्णा की भटकन मधुर है। मिठास के स्वामी के बारे में सब कुछ मीठा है।

कृष्ण की बांसुरी बजाना मधुर है, कृष्ण के पैर की धूल प्यारी है, कृष्ण के हाथ मधुर हैं और कृष्ण के पैर मधुर हैं। कृष्ण की नृत्य मधुर है और कृष्ण की कंपनी मधुर है। मिठास के स्वामी के बारे में सब कुछ मीठा है।

कृष्ण का गीत मधुर है, कृष्ण का मद्यपान मधुर है, कृष्ण का भोजन मधुर है और कृष्ण का शयन मधुर है। कृष्ण का सुंदर रूप मधुर है और कृष्ण का ‘तिलक’ मधुर है। मिठास के स्वामी के बारे में सब कुछ मीठा है।

कृष्ण के कर्म मधुर हैं, कृष्ण के विजय मधुर हैं, कृष्ण के चोरी करने वाले मधुर हैं और कृष्ण के प्रेम-क्रीड़ा मधुर हैं। कृष्णा की छूट मीठी है और कृष्णा की छूट मीठी है। मिठास के स्वामी के बारे में सब कुछ मीठा है।

कृष्ण की गुंजा-बेरी हार मधुर है, कृष्ण की माला मधुर है, कृष्ण की यमुना नदी मधुर है और कृष्ण की यमुना की लहरें मधुर हैं। कृष्ण यमुना का पानी मीठा है और कृष्ण का कमल का फूल मीठा है। मिठास के स्वामी के बारे में सब कुछ मीठा है।

कृष्ण की गोपियाँ ’मधुर होती हैं, कृष्ण की परिक्रमा मधुर होती है, कृष्ण की संघ मधुर होती है और कृष्ण की प्रसूति मधुर होती है। कृष्ण की झलक मीठी है और कृष्णा की शिष्टाचार मधुर है। मिठास के स्वामी के बारे में सब कुछ मीठा है।

कृष्ण की गोपियाँ मधुर होती हैं, कृष्ण की गायें मधुर होती हैं, कृष्ण की झुंड की छड़ी मधुर होती है और कृष्ण की सृष्टि मधुर होती है। कृष्ण तोड़ना मीठा है और कृष्ण का फल लाना मीठा है। मिठास के स्वामी के बारे में सब कुछ मीठा है।


Madhurashtakam Adhram Madhuram Vadnam Madhuram

Adharam Madhuram Vadanam Madhuram

Nayanam Madhuram Hasitham Madhuram

Adharam Madhuram Vadanam Madhuram

Nayanam Madhuram Hasitham Madhuram

Ridayam Madhuram Gamanam Madhuram

Madhu Raadhi Pather Akhilam Madhuram

Adharam Madhuram …

Vachanam Madhuram Charitham Madhuram

Vasanam Madhuram Valitham Madhuram

Chalitham Madhuram Brahmitham Madhuram

Madhu Raadhi Pather Akhilam Madhuram

Adharam Madhuram Vadanam Madhuram

Nayanam Madhuram Hasitham Madhuram

Adharam Madhuram…

Venur Madhuro Renuur Madhurah

Paanir Madhurah Paadau Madhurau

Rethyam Madhuram Sakhyam Madhuram

Madhu Raadhi Pathe Rakhilam Madhuram

Adharam Madhuram Vadanam Madhuram

Nayanam Madhuram Hasitham Madhuram

Adharam Madhuram…

Geetham Madhuram Peetham Madhuram

Bhuktham Madhuram Suptham Madhuram

Roopam Madhuram Thilakam Madhuram

Madhu Raadhi Pathe Rakhilam Madhuram

Adharam Madhuram Vadanam Madhuram

Nayanam Madhuram Hasitham Madhuram

Adharam Madhuram…

Karanam Madhuram Tharanam Madhuram

Haranam Madhuram Smaranam Madhuram

Vamitham Madhuram Samitham Madhuram

Madhu Radhi Pathe Rakhilam Madhuram

Adharam Madhuram Vadanam Madhuram

Nayanam Madhuram Hasitham Madhuram

Adharam Madhuram…

Gumjaa Madhuraa Maalaa Madhuraa

Yamunaa Madhuraa Veechee Madhuraa

Salilam Madhuram Kamalam Madhuram

Madhu Raadhi Pathe Rakhilam Madhuram

Adharam Madhuram Vadanam Madhuram

Nayanam Madhuram Hasitham Madhuram

Adharam Madhuram…

Gopee Madhuraa Leela Madhuraa

Yuktham Madhuram Bhuktham Madhuram

Drshtam Madhuram Shishtam Madhuram

Madhu Raadhi Pathe Rakhilam Madhuram

Adharam Madhuram Vadanam Madhuram

Nayanam Madhuram Hasitham Madhuram

Adharam Madhuram…

Gopaa Madhuraa Gaavo Madhuraa

Yashtir Madhuraa Srishtir Madhuraa

Dalitham Madhuram Phalitham Madhuram

Madhu Raadhi Pathe Rakhilam Madhuram

Adharam Madhuram Vadanam Madhuram

Nayanam Madhuram Hasitham Madhuram


English Meaning of Madhurashtakam

(Krishna’s) lips are sweet, (his) face is sweet, (his) eyes are sweet and (his) smile is sweet. (Krishna’s) heart is sweet and (his) walk is sweet. Everything is sweet about the lord of sweetness.

(Krishna’s) words are sweet, (his) character is sweet, (his) garments are sweet and (his) posture is sweet. (Krishna’s) movements are sweet and (his) wandering is sweet. Everything is sweet about the lord of sweetness.

(Krishna’s) flute-playing is sweet, (his) foot-dust is sweet, (his) hands are sweet and (his) feet are sweet. (Krishna’s) dancing is sweet and (his) company is sweet. Everything is sweet about the lord of sweetness.

(Krishna’s) song is sweet, (his) drinking is sweet, (his) eating is sweet and (his)sleeping are sweet. (Krishna’s) beautiful form is sweet and (his) ’tilak’ is sweet. Everything is sweet about the lord of sweetness.

(Krishna’s) deeds are sweet, (his) conquest is sweet, (his) stealing is sweet and (his) love-play is sweet. (Krishna’s) exuberance is sweet and (his) relaxation is sweet. Everything is sweet about the lord of sweetness.

(Krishna’s) gunja-berry necklace is sweet, (his) garland is sweet, (his) Yamuna river is sweet and (his) Yamuna’s waves are sweet. (Krishna’s) Yamuna’s water is sweet and (his) lotus flowers are sweet. Everything is sweet about the lord of sweetness.

(Krishna’s) ‘gopis’ are sweet, (his) frolicking is sweet, (his) union is sweet and (his) deliverance is sweet. (Krishna’s) glances are sweet and (his) etiquette is sweet. Everything is sweet about the lord of sweetness.

(Krishna’s) ‘gopas’ are sweet, (his) cows are sweet, (his) herding stick is sweet and (his) creation is sweet. (Krishna’s) breaking is sweet and (his) bringing to fruition is sweet. Everything is sweet about the lord of sweetness.


हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल मधुराष्टकम्: अधरं मधुरं वदनं मधुरं लिरिक्स | Madhurashtakam Adhram Madhuram Vadnam Madhuram Lyrics + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। adharam madhuram lyrics के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

madhurashtakam lyrics , madhurashtakam lyrics in hindi , adharam madhuram lyrics in hindi , madhurashtakam pdf , madhurashtakam lyrics hindi , adharam madhuram lyrics , मधुराष्टकम् pdf , adharam madhuram lyrics hindi , मधुराष्टकम् लिरिक्स , अधरम मधुरम लिरिक्स।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here