गौरी माँ का लाल प्यारा लिरिक्स | Gori Maa Ka Lal Pyara Lyrics

भगवान गणेश का “गौरी माँ का लाल प्यारा लिरिक्स | Gori Maa Ka Lal Pyara Lyrics” प्रियंका मित्रा जी के द्वारा गाया हुआ है। इस वंदना में गणेश जी का अपने कारज में आमंत्रित किया जा रहा और उन्हें प्रसन्न किया जा रहा है।


Gori Maa Ka Lal Pyara Lyrics

जय जय गणेश जय श्री गणेश
गौरी माँ का लाल प्यारा सिद्धि सिद्धि दाता है
जो भी इसको पूजे उसका भाग जग जाये
जय जय गणेश जय श्री गणेश

मोदक आहारी दाता मूषक सवारी
जो भी  इनसे प्रेम से मांगे वोही इनसे  पाए
गौरी माँ का लाल प्यारा सिद्धि सिद्धि दाता है
जो भी इसको पूजे उसका भाग जग जाये
जय जय गणेश जय श्री गणेश

एक दन्त गुनवंत दयानिधि गौरी मात के नंदन
वक्रतुंड प्रथमेश गजानन गणाधीश जगवंदन
वर्ध्विनायक विघ्नों के हरता
शुभ फलदायक मंगल कर्ता

जय जय गणेश जय श्री गणेश
रिद्धि सिद्धि बुद्धि  संपत्ति भक्तो पे लुटाये
जो भी इसको पूजे उसका भाग जग जाये
जय जय गणेश जय श्री गणेश

दूर्वा गुड हल्वा मोदक जम्बू मेवा मिश्री भाए
जल फल फुल चढ़ाये वो मनवांछित फल पाए
शीश जो झुकाके प्रेम से पुकारे
काज सब गणराज उसके सवारे
जय जय गणेश जय श्री गणेश

सभी कष्ट टाले उसके जो शरण में आये
जो भी इसको पूजे उसका भाग जग जाये
जय जय गणेश जय श्री गणेश

Gori Maa Ka Lal Pyara Lyrics

हमें उम्मीद है की गणेश जी के भक्तो को यह आर्टिकल “गौरी माँ का लाल प्यारा लिरिक्स | Gori Maa Ka Lal Pyara Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here