दो दिन का जगत मे मेला सब चला चली का खेला लिरिक्स | Do Din Ka Jagat Me Mela Sab Chala Chali Ka Khela Lyrics

भजन “दो दिन का जगत मे मेला सब चला चली का खेला लिरिक्स | Do Din Ka Jagat Me Mela Sab Chala Chali Ka Khela Lyrics” अनूप जलोटा जी का गाया हुआ भजन है। आरती के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Do Din Ka Jagat Me Mela Sab Chala Chali Ka Khela Lyrics

दो दिन का जगत मे मेला,
सब चला चली का खेला।।

कोई चला गया कोई जावे,
कोई गठरी बाँध सिधारे,
कोई खड़ा तैयार अकेला,
कोई खड़ा तैयार अकेला,
सब चला चली का खेला।।

कर पाप कपट छल माया,
धन लाख करोड़ु कमाया,
संग चले ना एक आढेला,
संग चले ना एक आढेला,
सब चला चली का खेला।।

सूत नारी मात पित भाई,
कोई अंत सहायक नही,
फिर क्यो भरता पाप का ढेला,
फिर क्यो भरता पाप का ढेला,
सब चला चली का खेला।।

ये तो है नश्वर सब संसारा,
करले भजन इश् का प्यारा,
ब्रह्मानंद कहे सुन चेला,
ब्रह्मानंद कहे सुन चेला,
सब चला चली का खेला।।

दो दिन का जग मे मेला रे,
सब चला चली का खेला।।

Do Din Ka Jagat Me Mela Sab Chala Chali Ka Khela Lyrics

हमें उम्मीद है की भक्तो को यह आर्टिकल “दो दिन का जगत मे मेला सब चला चली का खेला लिरिक्स | Do Din Ka Jagat Me Mela Sab Chala Chali Ka Khela Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Do Din Ka Jagat Me Mela Sab Chala Chali Ka Khela Lyrics ” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here