भक्त रहे ना पहले जैसे लिरिक्स | Bhagat Rahe Na Pehle Jaise Lyrics

श्याम बाबा का एक अद्बुध भजन “भक्त रहे ना पहले जैसे लिरिक्स | Bhagat Rahe Na Pehle Jaise Lyrics” कृष्णा स्वामी जी के द्वारा गाया हुआ है। इनकी भक्ति से श्याम जी की कृपा बनी रहती है। बाबा श्याम अपने भक्तो पर अपना आशीर्वाद बनाये रखते है।


Bhagat Rahe Na Pehle Jaise Lyrics

भक्त रहे ना पहले जैसे, श्याम को कौन बनाए गा ।
खाटू वाला नीले चढ़कर किसके खातिर आएगा ।।

भक्त रहे ना पहले जैसे, श्याम को कौन बनाए गा ।।

किसकी सुनेगा बात भला अब कौन भला अब बोलेगा,
मोरछड़ी से बंद तालों को कौन भला अब खोलेगा ।
श्याम बहादुर जी के जैसा दूजा ना मिल पाएगा,
भक्त रहे ना पहले जैसे, श्याम को कौन बनाए गा ।।

ढूंढे लेकिन भाव मिले ना बाबा तेरे कीर्तन में,
अपने अपने नाम का लालच लेकर बैठे हैं मन में ।
श्याम अखाड़ा आलू सिंह जी जैसा कौन लगाएगा,
भक्त रहे ना पहले जैसे, श्याम को कौन बनाए गा ।।

शिवचरण जी के भावों में श्याम धणी खो जाते थे,
हाथ पकड़कर हर अक्षर को दीनानाथ दिखाते थे ।
भजनों की अनमोल यह माला कैसे कृष्ण चलाएगा,
भक्त रहे ना पहले जैसे, श्याम को कौन बनाए गा ।।

Bhagat Rahe Na Pehle Jaise Lyrics

हमें उम्मीद है की श्याम जी के भक्तो को यह आर्टिकल “भक्त रहे ना पहले जैसे लिरिक्स | Bhagat Rahe Na Pehle Jaise Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Bhagat Rahe Na Pehle Jaise Lyrics ” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment