नरसिम्हा मंत्र लिरिक्स | Narasimha Mantra Lyrics

यह भगवान नृसिंह का “नरसिम्हा मंत्र लिरिक्स | Narasimha Mantra Lyrics” भक्त प्रहलाद जी का गाया हुआ है। इस भजन में हरी भक्त भगवान विष्णु के एक बार दर्शन की अभिलाषा व्यक्त कर रहे है।


नरसिम्हा मंत्र लिरिक्स

ॐ उग्रं वीरं महाविष्णुं ज्वलन्तं सर्वतोमुखम् ।
नृसिंहं भीषणं भद्रं मृत्युमृत्युं नमाम्यहम् ॥


Narasimha Mantra Lyrics

ॐ हे क्रुद्ध एवं शूर-वीर महाविष्णु,
आपकी ज्वाला एवं ताप चारों दिशाओं में फैली हुई है।
हे नरसिंहदेव प्रभु, आपका चेहरा सर्वव्यापी है,
तुम मृत्यु के भी यम हो और मैं आपके समक्ष आत्मसमर्पण करता हूँ।

Narasimha Mantra Lyrics

हमें उम्मीद है की भगवान विष्णु के भक्तो को यह आर्टिकल “नरसिम्हा मंत्र लिरिक्स | Narasimha Mantra Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “Narasimha Mantra Lyrics” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment

आरती : जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी