लाया थारी चुनरी लिरिक्स | Lyaya Thari Chunri Lyrics

दुर्गा माता का भजन “लाया थारी चुनरी लिरिक्स | Lyaya Thari Chunri Lyrics” राजू महरा जी के द्वारा गाया हुआ है। दुर्गा माता का भजन, वीडियो और लिरिक्स दिया गया है।


Lyaya Thari Chunri Lyrics

ल्याया थारी चुनरी
करियो माँ स्वीकार
इमें साँचा साँचा हीरा
और मोतियों की भरमार

चुनरी को रंग लाल चटक है
तारा भी चिपकाया माँ
बढियां पोत मंगायो जामे
गोटो भी लगवाया माँ

थे तो ओढ दिखाओ मैया
थारो मानंगा उपकार
ल्याया थारी चुनरी
करियो माँ स्वीकार

बस इतनी सी कृपा कर दे
सेवा में लग-जावाँ माँ
म्हने तू इ लायक करदे
चुनरी रोज चदावा माँ

बस टाबरिया पर बरसे
माँ हरदम थारो प्यार
ल्याया थारी चुनरी
करियो माँ स्वीकार

एक हाथ स भक्ति दीजे
एक हाथ स शक्ति माँ
एक हाथ स धन दौलत और
एक हाथ स मुक्ति माँ

तू तो हर हाथां स दीजे
माँ थारा हाथ हज़ार
ल्याया थारी चुनरी
करियो माँ स्वीकार

गर तू थारो बेटो समझे
सेवा बताती रह्ज्ये माँ,
बनवारी क्यां लायक समझो
काम उडाती रह्य्जे माँ

म्हे तो रात-दिना बेठ्या हाँ
थारी सेवा में तैयार
ल्याया थारी चुनरी
करियो माँ स्वीकार

Lyaya Thari Chunri Lyrics

हमें उम्मीद है की माँ दुर्गा के भक्तो को यह आर्टिकल “लाया थारी चुनरी लिरिक्स | Lyaya Thari Chunri Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “Lyaya Thari Chunri Lyrics” पर आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment