shri shiv stuti Header

जाऊ कहा तजि चरण तुम्हारे लिरिक्स | Jau Kaha Taji Charan Tumhare Lyrics

मर्यादा पुरषोत्तम श्री राम का अति पावन भजन “जाऊ कहा तजि चरण तुम्हारे लिरिक्स | Jau Kaha Taji Charan Tumhare Lyrics ” – रविंद्र जैन जी के द्वारा गाया गया है। इस भजन में राम भक्ति की महिमा का बखान किया गया है।


जाऊ कहा तजि चरण तुम्हारे लिरिक्स

जाउँ कहाँ तजि चरन तुम्हारे ।
काको नाम पतित-पावन जग,
केहि अति दीन पियारे ।।1।।

कौने देव बराइ बिरद-हित,
हठि हठि अधम उधारे ।
खग,मृग,ब्याध,पषान,बिटप जड़,
जवन कवन सुर तारे ।।2।।

देव,दनुज,मुनि,नाग,मनुज सब,
माया-बिबस बिचारे ।
तिनके हाथ दासतुलसी प्रभु,
कहा अपनपौ हारे ।।3।।


Jau Kaha Taji Charan Tumhare Lyrics

Jau Kaha Taji Charan Tumhare,
Kako Naam Patit Pavan Jag,
Kehi Ati Deen Piyare ।।

Kone Dev Barai Birad Hit,
Hathi Hathi Adham Udhare,
Khag, Mrig, Byadh, Pashan,
Bitap Jadh,
Javan Kavan Sur Taare ।।

Dev, Danuj, Muni,
Naag, Manuj, Sab,
Maya Bibas Bichare,
Tinke Hath Daastusi Prabhu,
Kaha Apanpau Haare ।।

Jau Kaha Taji Charan Tumhare Lyrics

Jau Kaha Taji Charan Tumhare Lyric PDF


हमें उम्मीद है की श्री राम के भक्तो को यह आर्टिकल “जाऊ कहा तजि चरण तुम्हारे लिरिक्स | Jau Kaha Taji Charan Tumhare Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Jau Kaha Taji Charan Tumhare Lyrics” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment