shri shiv stuti Header

जैसे होली में रंग लिरिक्स | Jaise Holi Me Rang Lyrics

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “जैसे होली में रंग लिरिक्स | Jaise Holi Me Rang Lyrics” कार्तिकी जी के द्वारा गाया हुआ है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Jaise Holi Me Rang Lyrics

जैसे होली में रंग
रंगो में होली
वैसे कान्हा मेरा
मैं कान्हा की हो ली

रोम रोम मेरा
कान्हा से भरा
अब कैसे में खेलूँ री
आँखमिचोली

मैं तो कान्हा से मिलने
अकेली चली
संग संग मेरे
सारे रंग चले

ज़रा बचके रहो
ज़रा हटके चलो
बड़ी नटखट है
नव रंगों की टोली

अब तो तन मन पे
श्याम रंग चढा
कंचन के तन
रतन जडा

बनठन के मैं बैठी
दुल्हन की तरहा
कान्हा लेके चला
मेरे प्रेम की डोली

Jaise Holi Me Rang Lyrics

हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “जैसे होली में रंग लिरिक्स | Jaise Holi Me Rang Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Jaise Holi Me Rang Lyrics” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment