हाल अपना सुनाऊँ किसे सांवरे लिरिक्स | Haal Apna Sunau Kise Saware Lyrics

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “हाल अपना सुनाऊँ किसे सांवरे लिरिक्स | Haal Apna Sunau Kise Saware Lyrics” अरुण चौहान जी के द्वारा गाया हुआ है। भजन के लिरिक्स हिंदी और इंग्लिश में वीडियो के साथ दिए हुए है।


Haal Apna Sunau Kise Saware Lyrics

हाल अपना सुनाऊँ किसे सांवरे 
एक तू ही तो है मेरा सांवरे
तेरे होते क्यों आँखों में आंसू मेरे
ये तो अच्छी नहीं बेरुखी सांवरे
हाल अपना सुनाऊँ किसे सांवरे

तुझको अपना है साथी माना सदा
मेरे दुःख की घडी में कहाँ तू बता
ये बता दे हुई क्या है मुझसे खता
क्या नहीं हूँ मैं दास के काबिल बता
तू सुनेगा नहीं तो कहाँ जाऊँगा
तेरी चौखट पे रो रो के मर जाऊँगा
हाल अपना सुनाऊँ किसे सांवरे

एक तू ही तो जग में सहारा मेरा
है भरोसे पे तेरे ये जीवन मेरा
ऐसे कब तक सताओगे ओ सांवरे
ठोकरें खा के आया हूँ दर सांवरे
अपने प्रेमी पे इतना सितम क्यों करे
ये बता दे मुझे ओ मेरे सांवरे
हाल अपना सुनाऊँ किसे सांवरे

तेरी रेहमत का दरिया है बहता सदा
मैं रहूँगा यूँ प्यासा कब तक बता
अब तो आँखों के आंसू भी सूखे मेरे
हार जाऊं ना जीवन मेरे सांवरे
तेरे रही को तुझपे भरोसा बड़ा
तेरे राही को तुझपे भरोसा बड़ा
हार हो ना सके जब संग तू खड़ा
हाल अपना सुनाऊँ किसे सांवरे

Haal Apna Sunau Kise Saware Lyrics

हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल “हाल अपना सुनाऊँ किसे सांवरे लिरिक्स | Haal Apna Sunau Kise Saware Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “Haal Apna Sunau Kise Saware Lyrics” भजन के आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

Leave a Comment

आरती : जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी