Pahado Me Mera Basera Hai Lyrics


Pahado Me Mera Basera Hai Lyrics

भूल के रास्ते सारे
बैठे दिल के बेचारे
जो तू हमे ना पुकारे
मुश्किल मिलते किनारे

नदियाँ बारिश तुझसे होती थी
सूखे बादल तूही भिगोती थी
वो तितली जिसने बाहें छुई थी
वो मिट्टी की गुल्लक जो टूटी थी

कहती फिर से,
तू घर आजा, तू घर आजा
मेरे यार, मेरे यार

टूटा है पुल वहाँ
तू मेरे पास आजा, मेरे यार
धुँधला सा लगे जहाँ
तू आके धूप बन जा मेरे यार

सर्दी भी थी शर्मायी
तू नीले सूट में आई
फिर नज़रे जो मिलाई
हाए, इस दिल की थी तबाही

देखा नही तुझे अरसो से
बात नही अब बरसो से
खोये हुए तेरे चर्चो से है कहाँ
पहाड़ो में मेरा बसेरा है

गले में ये मफ्लर तेरा है
आके तू इसको आधा ओढ़ जा

नदियाँ बारिश तुझसे होती थी
सूखे बादल तूही भिगोती थी
तितली जिसने बाहें छुई थी
वो मिट्टी की गुल्लक जो टूटी थी

कहती फिर से,
तू घर आजा, तू घर आजा
मेरे यार, मेरे यार

टूटा है पुल वहाँ
तू मेरे पास आजा, मेरे यार
धुँधला सा लगे जहाँ
तू आके धूप बन जा मेरे यार

जिस राह तू आए
वो तू भूलती जाए
जो तू आए, फिर ना जाए
जिस राह तू आए
वो तू भूलती जाए
वहाँ पत्ते गिर जाए,
बारिश हो जाए
जिस राह तू आए
वो तू भूलती जाए
वहाँ पत्ते गिर जाए,
बारिश हो जाए

Pahado Me Mera Basera Hai Lyrics

Leave a Comment