मन तो तेरा ही भजन करे लिरिक्स | Man To Tera Hi Bhajan Kare Lyrics

यह अद्बुध हरी भजन “मन तो तेरा ही भजन करे लिरिक्स | Man To Tera Hi Bhajan Kare Lyrics” स्वामी सदानन्द जी का है। इस भजन में हरी भक्त भगवन विष्णु के एक बार दर्शन की अभिलाषा व्यक्त कर रहे है।


Man To Tera Hi Bhajan Kare Lyrics

मन तो तेरा ही भजन करे हीरे गुरुदेव सांवरिया मेरे
गुरुदेव सांवरिया मेरे घनश्याम सांवरिया मेरे,

एक बाग मैंने ऐसा देखा नहीं फूल नहीं पत्ते
मैने तोड़ अमर फल खाए रे गुरुदेव सांवरिया मेरे

एक ताल मैंने ऐसा देखा ना कुआ ना पानी
मैंने मलमल काया धोई  रे गुरुदेव सांवरिया मेरे

एक महल मैंने ऐसा देखा नहीं राजा नहीं रानी
नंदलाल खेलते देखे रे गुरुदेव सांवरिया मेरे

एक रसोई मैंने ऐसी देखी नहीं दाल नहीं आटा
मैंने 36 भोग लगाए रे गुरुदेव सांवरिया मेरे

एक भवन में ऐसा देखा नहीं डोलक नहीं चिमटा
मैंने भजन कीर्तन गाए रे गुरुदेव सांवरिया मेरे ।।
गुरुदेव सांवरिया मेरे घनश्याम सांवरिया मेरे

Man To Tera Hi Bhajan Kare Lyrics

हमें उम्मीद है की भगवान विष्णु के भक्तो को यह आर्टिकल “मन तो तेरा ही भजन करे लिरिक्स | Man To Tera Hi Bhajan Kare Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here